World

महिला ने बीमार तेंदुए को बांधी राखी, भारत की ये तस्वीर देखकर गर्व से कहेंगे- ‘ऐसा देश है मेरा!’

भारत विविधताओं का देश है. यहां इंसान और इंसान के बीच तो प्यार दिखता ही है, साथ में प्रकृति से भी प्यार नजर आता है. इसी वजह से भारतीय संस्कृति में पेड़, सूर्य, पहाड़, जानवर, पक्षी जैसे प्रकृति के हर रूप की पूजा की जाती है. आज भी भारत के कई ऐसे हिस्से हैं जहां इंसान और जंगली जानवरों के बीच गहरी दोस्ती देखने को मिलती है. रक्षाबंधन (Rakshabandhan 2022) के मौके पर भारत की एक फोटो वायरल हो रही है जिसमें इंसान और तेंदुए के बीच प्यार नजर आ रहा है. इस फोटो में महिला एक तेंदुए (woman ties rakhi to leopard in India) को राखी बांधती दिख रही है.

आईएफएस अधिकारी सुशांत नंदा (IFS officer Susanta Nanda) अक्सर जानवरों से जुड़े हैरान करने वाले वीडियोज (animal videos) और फोटोज शेयर करते रहते हैं. हाल ही में उन्होंने एक फोटो पोस्ट की है जो खूब चर्चा का विषय बनी हुई है. फोटो के बारे में बताने से पहले न्यूज18 हिन्दी वेबसाइट ये साफ कर देना चाहती है कि सुशांत द्वारा पोस्ट की गई ये तस्वीर एक वायरल फोटो है. उन्होंने भी अपने पोस्ट में इस फोटो के लिए किसी को क्रेडिट नहीं दिया है. ऐसे में हम फोटो के साथ किए जा रहे दावे के सच होने की पुष्टि नहीं करते हैं.

भारतीय महिला ने तेंदुए को बांधी राखी

इस फोटो की खासियत है इंसान और जंगली जानवरों के बीच प्यार जो भारत की संस्कृति का एक प्रतीक है. फोटो को देखकर आपको भारतीय संस्कृति पर जरूर गर्व होगा. फोटो में एक महिला तेंदुए (Rajasthan woman tie rakhi to ailing Leopard) के अगले पैर पर राखी बांधती दिख रही है. इसके साथ सुशांत ने कैप्शन में जानकारी देते हुए लिखा- “सदियों से, भारत में मनुष्य और जानवर प्यार और सद्भावना के साथ रहते हैं. इसके साथ ही उनके अंदर जंगल के प्रति भी बेहिसाब प्यार है. राजस्थान में, एक महिला वन विभाग को सौंपने से पहले एक बीमार तेंदुए को राखी (प्यार और भाईचारे का प्रतीक) बांधकर जंगल के प्रति भारतीयों के प्यार को दर्शा रही है.”

फोटो हो रही वायरल

इस फोटो पर कई लोगों ने कमेंट कर अपनी प्रतिक्रिया दी है. एक शख्स ने कहा कि इंसान को इसी प्रकार रहना चाहिए. हमें जानवर और जंगलों के साथ रहना सीखना होगा क्योंकि भगवान ने ही सभी को एक समान बनाया है. एक शख्स ने वन विभाग की तारीफ की जो जंगलों की रक्षा करते हैं.

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker