World

महिला को हुआ जासूस से प्यार, सामने आई धोखेबाज़ी तो मांगा करोड़ों का मुआवज़ा !

किसी इंसान के साथ रिश्ते में रहते हुए आप अपने पार्टनर के बारे में इतनी तो खबर रखते हैं कि उसका नाम, घर और माता-पिता कौन हैं? अगर ऐसा नहीं किया जाता है तो हालत केट विल्सन (Kate Wilson) नाम की एक पर्यावरण कार्यकर्ता जैसी हो सकती है, जो एक शख्स के साथ 2 साल तक रिश्ते में रहीं, लेकिन उन्हें ये नहीं पता चला कि वो दरअसल एक जासूस (Woman Duped into Relationship With Policemen) है.

केट विल्सन (Kate Wilson) के साथ ऐसा इसलिए हुआ, क्योंकि जिस शख्स को वो अपना ब्वॉयफ्रेंड समझ रही थीं, वो दरअसल एक अंडरकवर पुलिसकर्मी था. साल 2003 से 2005 तक वे अपने सो कॉल्ड ब्वॉयफ्रेंड के साथ इंटीमेट रिलेशनशिप में रहीं और उन्हें वो अपनी ही तरह एक पर्यावरण कार्यकर्ता लगता रहा. जब उन्हें असलियत का पता चला तो वे अपने गुमनाम प्रेमी को ढूंढने में जुट गईं.

प्यार में मिला जासूसी वाला धोखा

ब्रिटेन में रहते हुए केट विल्सन की मुलाकात मार्क केनेडी (Mark Kennedy) से साल 2003 में एक कैंपेन के दौरान हुई. साल 2005 तक वे केनेडी को एक साथी कार्यकर्ता समझकर उनके साथ मोहब्बत करती रहीं. जब उन्हें स्पेन जाना हुआ तो वे दोनों अलग हो गए.

केट को इस बात को समझने में 8 साल लग गए कि केनेडी एक अंडरकवर पुलिसकर्मी थे, जिन्हें Sumac Centre में घुसपैठ करके पर्यावरण कार्यकर्ताओं की जासूसी के लिए भेजा गया था. इस दौरान केनेडी ने अपना सही नाम भी नहीं बताया था और उसके एक वक्त में करीब 10 महिलाओं से संबंध थे.

महिला ने की मुआवज़े की मांग

पहले से शादीशुदा केनेडी के बारे में केट ने 10 साल तक सच्चाई का पता लगाया और इस मामले में मुआवज़े की मांग की. वे ITV नेटवर्क पर भी अपनी बात रख चुकी हैं. 24 जनवरी को केट को अपने साथ हुए इस धोखे के बदले 2 करोड़ 3 लाख रुपये का मुआवज़ा हासिल हुआ. ये मुआवज़ा उन्होंने इंवेस्टिगेटरी पॉवर्स ट्राइब्यूनल के कहने पर नेशल पोलिस चीफ्स काउंसिल से हासिल हुआ. कोर्ट ने केनेडी को केट के साथ रिश्ते में अपमानित और शोषण करने वाला करार दिया.

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker