World

भरी जवानी में कमर दर्द से परेशान हो गई महिला, 3 महीने बाद CT स्कैन से खुला खौफनाक राज!

आमतौर पर साधारण सर्दी-खांसी या शरीर में थोड़ा सा दर्द होने पर डॉक्टर्स के पास जाना अवॉयड करते हैं. खासकर अभी कोविड के कारण लोग कम से कम अस्पताल के चक्कर लगाने की कोशिश में हैं. हम खुद ही दवाइयां खाकर समस्या को कंट्रोल करने की कोशिश करते हैं. ऐसी ही एक कोशिश की थी पलिस्तीन में रहने वाली एक महिला ने.

इस महिला को पिछले तीन महीने से रीढ़ की हड्डी में दर्द था. महिला को लगा कि शायद सोने के क्रम में किसी तरह उसकी नस खींच गई होगी. लेकिन असलियत जब सामने आई तो हर कोई हैरान रह गया.

पलिस्तीन (Palestine) के वेस्ट बैंक (West Bank) में रहने वाली अदि ब्लॉय पिछले तीन महीने से दर्द से परेशान थी. तीन महीने पहले वो एक शादी अटेंड करके लौटी थी. तभी से उसे लगातार दर्द था. अदि ब्लॉय (Adi Bloy) पेन किलर्स खाकर अपना दर्द कम करती थी. लेकिन कुछ समय से ये दर्द बर्दाश्त से बाहर हो गया था.

जब आखिर में दर्द सहन नहीं हुआ तो वो डॉक्टर के पास पहुंची. वहां जो बात पता चली, उसने सभी को हैरान कर दिया. असल में अदि ब्लॉय की रीढ़ की हड्डी में तीन महीने से एक बुलेट फंसी हुई थी.द टाइम्स ऑफ़ इजरायल में छपी खबर के मुताबिक़, तीन महीने पहले अदि एक दोस्त की शादी में गई थी.

वहां अचानक उसे अपने कमर में दर्द महसूस हुआ. अदि को लगा कि शायद उसकी नस खींच गई है. लेकिन उसने अपनी ड्रेस में मौजूद छेद को नहीं देखा. फिर उसकी नजर हाथ में लगे खून पर पड़ी लेकिन वहां एक छोटा खरोंच देख उसने समझा कि खून इसी वजह से लगा होगा. लेकिन उसे बुलेट लगी है इस बात का उसे थोड़ा सा भी अंदाजा नहीं था.

पहले तो उसने पेन किलर्स खाकर दर्द कंट्रोल करने की कोशिश की. लेकिन इसके बाद जब दर्द बर्दाश्त से बाहर हो गया तो उसने सीटी स्कैन किया, जिसमें पता चला कि उसकी रीढ़ की हड्डी में तीन महीने से एक बुलेट फंसी हुई है. इसके बाद तुरंत अदि की सर्जरी की गई.

डॉक्टर्स ने उसकी रीढ़ की हड्डी से 5.56 mm की एक बुलेट निकाली. डॉक्टर्स के मुताबिक़, अदि का बचना एक चमत्कार है. अगर ये बुलेट थोड़ी और नीचे फंसी होती तो आगे उसे कई तरह की दिक्कत हो सकती थी. अब पुलिस मामले की जांच में जुट गई है कि शादी में किसने बुलेट चलाई थी?

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker