World

बेटी के प्रेमी से मां ने मांगा 8 लाख दहेज, ब्रेकअप करते ही दिया भारी डिस्काउंट

भारत में भले ही दहेज़ प्रथा (Dowry System In India) को इलीगल बताया गया है, इसके बाद भी आज के समय में भी इसे प्रैक्टिस किया जाता है. लड़के पक्ष के लोग जमकर दहेज़ लेते हैं और लड़की वाले देते भी हैं. लेकिन चीन (China) में एक अलग ही मामला सामने आया.

यहां लड़की की मां ने उसके प्रेमी को अपनी बेटी से शादी करने के लिए दहेज़ की डिमांड (Girl Mother Demanded Dowry) की. लड़की की मां ने दहेज़ में RM 435,000 यानी करीब आठ लाख रुपए मांगे. लेकिन लड़के ने इस अमाउंट को सुनते ही लड़की से रिश्ता तोड़ दिया और दूसरी जगह शादी फिक्स कर ली. इसके बाद आया कहानी में ट्विस्ट.

कहानी में ट्विस्ट आया लड़के की शादी के फंक्शन में. अचानक समारोह में लड़के की पूर्व प्रेमिका आ पहुंची. उसने वहां जमकर रोना-धोना मचाया. इसके बाद उसने लड़के से ये शादी तोड़ देने की रिक्वेस्ट की. साथ ही बताया कि उसकी मां को आठ लाख रुपए नहीं चाहिए. अब उसकी मां उसे सिर्फ तीन लाख देकर शादी करने के लिए मान गई है. दहेज़ में ऐसे डिस्काउंट देने की बात जानते ही लोग आश्चर्य में पड़ गए.

भला कोई मां अपनी बेटी की ख़ुशी के लिए ऐसी हरकत कैसे कर सकती है?चीनी सोशल मीडिया वीबो में शेयर हो रही खबर के मुताबिक़, रिश्ता टूटने से पहले शादी तक पहुंच गया था. लेकिन आखिर में लड़की की मां लड़के से आठ लाख रुपए डिमांड करने लगी. जब लड़के ने ये अमाउंट देने में असमर्थता जताई तो लड़की की मां ने रिश्ता तोड़ दिया.

तब लड़के ने दूसरी लड़की के साथ शादी का फैसला किया. शादी समारोह में लड़के की पूर्व प्रेमिका वेडिंग गाउन में पहुंची थी. उसने रोते हुए शादी तोड़कर उससे शादी कर लेने की रिक्वेस्ट की और दहेज़ में मिल रहे डिस्काउंट के बारे में बताया. लेकिन लड़के ने उसके डिस्काउंट को नहीं माना और ये रिश्ता तोड़कर दूसरी लड़की से शादी कर ली.

इस घटना का वीडियो भी जमकर शेयर किया जा रहा है. कई लोगों ने लड़की की मां को भला-बुरा कहा. वहीं एक शख्स ने लिखा कि इतनी जल्दी लड़के को दूसरी लड़की भी शादी के लिए मिल गई. पक्का उसका अफेयर दो लड़कियों से चल रहा बाद उसने फटाक से दूसरी लड़की से शादी कर ली. अब चाहे जो भी हो, दहेज़ में डिस्काउंट का ये मामला काफी शेयर किया जा रहा है. लोग हैरान हैं कि भला ऐसा भी होता है क्या?

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker