MeerutWorld

अमेरिका में 13 हजार फीट की ऊंचाई पर बनाया तिरंगा, एडवेंचर स्पोर्ट्स में मेरठ के सत्येंद्र वर्मा के नाम हैं कई रिकार्ड

मेरठ,  आजादी के अमृत महोत्सव पर डिफेंस एन्क्लेव निवासी लेफ्टिनेंट कर्नल सत्येंद्र वर्मा ने 13 हजार फीट की ऊंचाई पर तिरंगा बनाकर देशवासियों को जय हिंद बोला। सत्येंद्र ने तिरंगे में शांति के प्रतीक सफेद रंग का विंगसूट पहने हुए टीम के दो अन्य सदस्यों सुदीप कोडावती और अनिरुद्ध रंगनाथ के साथ 13 हजार फीट की ऊंचाई से छलांग लगाई।

80 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से आए नीचे

80 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से नीचे आते हुए ले. कर्नल सत्येंद्र और उनके साथियों ने हवा में तिरंगा बनाकर स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूर्ण होने पर देश को शुभकामनाएं दी। उन्होंने यह रोमांचक प्रस्तुति अमेरिका में दी जिसका वीडियो इंटरनेट मीडिया पर भी अपलोड किया गया है।

पिता से मिली प्रेरणा, सेना से हौसला

ले. कर्नल सत्येंद्र वर्मा कंकरखेड़ा स्थित डिफेंस एन्क्लेव में रहने वाले सेवानिवृत्त मेजर पदम सिंह वर्मा के पुत्र हैं। वर्तमान में अमेरिका में प्रशिक्षण ले रहे सत्येंद्र ने बताया कि उन्हें स्पोर्ट्स में आगे बढ़ने की प्रेरणा पिता से मिली। सेना ने मौका दिया तो आगे बढ़ते चले गए।

तीन राष्ट्रपति कर चुके हैं सम्‍मानित

वर्ष 2014 में एडवेंचर स्पोर्ट्स में तेंजिंग नार्गे नेशनल एडवेंचर अवार्ड से सम्मानित हो चुके ले. कर्नल सत्येंद्र को देश के तीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, प्रतिभा पाटिल और डा. एपीजे अब्दुल कलाम से सम्मानित होने का अवसर प्राप्त हुआ।

वर्ष 2013 में हुए सेवानिवृत्त

वर्ष 1991 में सेना में शामिल होकर वर्ष 2013 में सेवानिवृत्त हुए सत्येंद्र फेडरेशन एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन से प्रमाणित देश के पहले सीनियर मास्टर हैं। उन्होंने फ्री-फाल जंपिंग, पैरा ग्लाइडिंग, विंगसूट जंपिंग और बेस जंपिंग में तीन हजार से अधिक जंप करते हुए कई रिकार्ड भी अपने नाम किए हैं।

  • ये हैं सत्येंद्र वर्मा की प्रमुख जंप देश में पहला बेस जंप 29 अक्टूबर 2010 को पीतमपुरा टीवी टावर से।
  • दिसंबर 2012 में देश में पहले विंगसूट फ्लाइट प्रदर्शन में पार की माहिम खाड़ी।
  • वर्ष 2017 में नोएडा की सुपरनोवा बिल्डिंग से किया बेस जंप।
  • देश में सबसे लंबी विंगसूट उड़ान 2019 में भरी। इसमें 19,400 फीट ऊंचाई से पांच किमी तक पांच मिनट तक उड़ान भरी।
  • वर्ष 2011 में सबसे बड़े तिरंगे के साथ फ्रीफाल का रिकार्ड।
  • ले. सत्येंद्र के नाम चार लिमका बुक आफ रिकार्ड दर्ज हैं।
  • ये हैं एडवेंचर अनुभव
  • 2500 से अधिक फ्रीफाल, 350 से अधिक विंगसूट और 53 बेस जंप। हर तरह के प्लेटफार्म से स्काईडाइविंग का अनुभव।
  • वर्ष 2006 में खड़ी की आर्मी स्काई डाइविंग टीम।
  • 2006 से 2012 तक आर्मी स्पोर्ट्स स्काई डाइविंग टीम कैप्टन रहे।
    हर तरह के स्काईडाइविंग तरीकों के प्रशिक्षक भी रहे। 2006 में रूस व 2010 में स्विट्जरलैंड में हुई वर्ल्ड मिलिट्री पैराशूटिंग चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व।
  • यूके में 2015 और 2016 व 2017 में यूएसए में वर्ल्ड विंगसूट चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व।
  • वर्ष 2014 में अलीगढ़ में देश का पहला स्काईडाइविंग ड्राप जोन बनाया।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker