Uttar Pradesh

UP Election 2022: बहराइच में बोलीं मायावती, बसपा की सरकार बनी तो गुंडे-माफिया को भेजेंगे जेल; किसानों पर दर्ज मुकदमे वापस होंगे

बहराइच, । बसपा सुप्रीमो मायावती ने दलितों, आदिवासियों एवं पिछड़े वर्ग की समस्याओं के लिए कांग्रेस की सरकारों को जिम्मेदार ठहराते हुए सपा एवं भाजपा पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा कि यह दोनों दल एक ही थैली के चट्टे बट्टे हैं। उन्होंने किसानों को भरोसा दिलाया कि उनकी सरकार बनने पर आंदोलन के दौरान उन पर दर्ज हुए मुकदमे जांच कराकर वापस लिए जाएंगे और गुंडा माफिया जेल में होंगे।

पयागपुर में देवीपाटन मंडल की सभी 20 सीटों के उम्मीदवारों के समर्थन में आयोजित जनसभा में उन्होंने दलितों क्यों पिछड़ों को लुभाने के लिए सरकार बनने पर सरकारी जमीन का खेती के लिए पट्टा एवं दो कमरों का मकान बनवा कर दिए जाने का वादा किया।

12 बजकर पांच मिनेट पर मायावती का हेलीकाप्टर लैंड हुआ। मंच पर पहुंचते ही बसपा सुप्रीमो को प्रतीक चिह्न भेंट कर बसपाइयों ने स्वागत किया। जनता का अभिवादन करने के बाद बसपा सुप्रीमो ने सबसे पहले कांग्रेस पर हमला बोला।

कहा, केंद्र एवं देश के अधिकांश राज्यों में कांग्रेस की सरकारें जबरदस्त जातिवादी, दलित, आदिवासी एवं अन्य पिछड़ा वर्ग विरोधी हैं। कांग्रेस ने बाबा साहब को भारत रत्न नहीं दिया, जबकि उनके मिशन को आगे बढ़ाने वाले कांशीराम के निधन पर राष्ट्रीय शोक करने से परहेज किया। मंडल कमीशन भी लागू नहीं किया।

अपनी इन्हीं गलत नीतियों के कारण कांग्रेस आज देश व तमाम राज्यों से सत्ता से बाहर हो गई है। बीपी सिंह सरकार में लागू मंडल कमीशन की रिपोर्ट का श्रेय लेते हुए उन्होंने कांग्रेस पर दलितों और आदिवासियों के हितों का नाटक करने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार में दंगाइयों औऱ गुंडो का बोलबाला रहा। सपा एक विशेष क्षेत्र और विशेष समुदाय के लिए काम करती है। सपा सरकार में दंगों के चलते तनाव की स्थिति रहती है। उन्होंने हमारे महापुरुषों के नाम पर बनी शैक्षिक संस्थाओं एवं जिलों के नाम बदल दिए।

भाजपा ने भी न्याय नहीं दिया।भाजपा जातिवादी और आरएसएस के इशारे पर चलने वाली पार्टी है। इसने दलितों, आदिवासियों, पिछड़ों और मुस्लिमों के लिए चलाई गई योजनाओं को बंद कर दिया।आरक्षण का लाभ बीजेपी सरकार में नहीं मिल पा रहा है। भाजपा सरकार में मुस्लिम डरा सहमा रहता है।

भाजपा सरकार में प्रबुद्ध वर्ग में विशेष कर ब्राह्मणों का बहुत नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि बसपा सभी सीटों पर अकेले दम पर चुनाव लड़ रही है और सर्व समाज की एकमात्र ऐसी पार्टी है। 2007 में उसकी सरकार बनने पर रोजगार के लिए बाहर गए लोग वापस लौटे थे। बसपा ने प्रदेश में चार बार शासन किया और नौकरियां दीं।

अब नौकरियां न होने के कारण पलायन हो रहा है। हमारी सरकार आने पर सभी को दोबारा वापस बुला कर रोजी रोटी का प्रबंध करेंगे। सभा में श्रावस्ती के सांसद रामशिरोमणि वर्मा, पयागपुर से उम्मीदवार गीता मिश्र, श्रावस्ती से उम्मीदवार नीतू मिश्र सहित बड़ी तादाद में पदाधिकारी मौजूद थे।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker