Saturday, January 29, 2022
HomeUttar PradeshUP Chunav 2022: BSP को लगा बड़ा झटका, रामवीर उपाध्‍याय का इस्‍तीफा,...

UP Chunav 2022: BSP को लगा बड़ा झटका, रामवीर उपाध्‍याय का इस्‍तीफा, ब्राह्मण वोट बैंक पर है पकड़

हाथरस. यूपी में विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) का संग्राम शुरू होने से पहले दल-बदल की सियासत का पारा चढ़ा हुआ है. इस बीच राज्‍य के पूर्व ऊर्जा मंत्री रामवीर उपाध्याय (Ramveer Upadhyay) ने बसपा (BSP) से इस्‍तीफा देकर राजनीतिक हलचल बढ़ा दी है.

वह भाजपा (BJP) का दामन थामेंगे. इसे भाजपा की ब्राह्मण वोट बैंक में बड़ी सेंध माना जा सकता है. आखिरी रामवीर उपाध्याय हमेशा से ही ब्राह्मण राजनीति का मजबूत चेहरा रहे हैं और उनकी इस खासियत की वजह से बसपा में तूती बोलती थी.

- Advertisement -

बहरहाल, रामवीर उपाध्याय को बसपा ने 2019 में पार्टी से निलंबित कर दिया था. वहीं, उन्‍होंने बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती को पत्र लिख कर इस्‍तीफा सौंपा है. वह, भाजपा के टिकट पर सादाबाद विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ सकते हैं. बता दें कि वह वर्तमान में सादाबाद से ही विधायक हैं. हालांकि उन्‍होंने पिछले कुछ समय से बीमारी के चलते राजनीति से दूरी बना रखी थी.

पूरा परिवार हुआ भाजपाई

- Advertisement -

बता दें कि रामवीर उपाध्याय को छोड़कर उनका पूरा परिवार भाजपाई हो चुका है. वह यूपी पंचायत चुनाव के दौरान अपनी पत्नी के नामांकन में गले में जय श्री राम लिखा हुआ पट्टा डालकर पहुंचे थे. इससे साफ हो गया था कि उनके दिल में भाजपा ही बसी है. वहीं, आज उन्‍होंने बसपा से इस्‍तीफा देकर भाजपा का दामन थामने का ऐलान कर दिया है.

ऐसे उपाध्याय परिवार की भाजपा में हुई एंट्री

रामवीर उपाध्याय वर्तमान में हाथरस की सादाबाद सीट से बसपा के विधायक हैं. जबकि छोटे भाई और पूर्व विधायक मुकुल उपाध्याय ने बसपा छोड़कर भाजपा में शामिल होने की शुरुआत की थी. इसके बाद रामवीर उपाध्याय के बेटे चिरागवीर उपाध्याय ने भाजपा का दामन थाम लिया. वहीं, फिर रामवीर की पत्‍नी सीमा उपाध्याय भाजपा ज्‍वाइन कर ली थी. इसके अलावा उनके एक और भाई विनोद उपाध्याय पहले ही भाजपा का साथ दे रहे हैं.

hind morcha news app

Most Popular