Uttar Pradesh

PM मोदी ने काशी को दिया फिर एक खास तोहफा, अब मंदिर के सुरक्षाकर्मियों, पुजारियों और सेवादारों के लिए सौगात

वाराणसी. इन दिनों सर्दी ने सभी को परेशान कर रखा है. खराब मौसम के कारण पूरे प्रदेश में लोगों गलन वाली सर्दी के बीच खुद को बचाने का प्रयास कर रहे हैं. इस तेज सर्दी में एक तरफ जहां घर के अंदर भी लोगों को राहत नहीं मिल रही है, वहीं दूसरी ओर कुछ लोग ऐसे भी हैं जो खुले आसमान के नीचे अपना फर्ज निभा रहे हैं.

हम बात कर रहे हैं काशी विश्वनाथ मंदिर के सुरक्षाकर्मियों, पुजारियों और सेवादारों की. ये लोग इस क​ड़कड़ाती सर्दी में संगमरमर के फर्श पर नंगे पांव अपनी ड्यूटी निभा रहे हैं. ऐसे में पीएम मोदी ने इन लोगों की सुध लेते हुए इनके लिए एक तोहफा भेजा है, जो इनके पैरों को सर्दी से बचाने का काम करेगा.

जूट के जूते हैं खास

दरअसल प्रधानमंत्री की ओर से विश्वनाथ मंदिर में नंगे पांव ड्यूटी करने वाले सुरक्षाकर्मी, पुजारियों के लिए जूट के जूते भेजे गए हैं. पहली किस्त में 100 जोड़ी जूते भेजे गए हैं, जिन्हें पुजारियों सेवादारों और सुरक्षाकर्मियों को बांटा गया है. यह जूट के जूते भी डिजाइनर हैं जो दिखने में भी काफी खूबसूरत हैं. गौरतलब है कि मंदिर के गर्भ गृह में पुजारियों, सेवादारों और सुरक्षाकर्मियों को नंगे पांव ही ड्यूटी करनी पड़ती है क्योंकि यहां चमड़ा और रबड़ के जूते चप्पल प्रतिबंधित हैं.

खड़ाऊ से हो रही थी दिक्कत

ऐसे में पिछले दिनों सर्दी के सितम को देखते हुए पुजारियों, सेवादारों और सुरक्षाकर्मियों को लकड़ी के खड़ाऊ दिए गए थे लेकिन संगमरमर की फर्श पर लकड़ी की खड़ाऊ से ड्यूटी करना मुश्किल हो रहा था. इस दिक्कत को समझते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से इन सभी कर्मचारियों सेवादारों और पुजारियों के लिए जूट के जूते भिजवाए गए हैं.

कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बताया की भीषण ठंड में आठ घंटे की ड्यूटी करने में सुरक्षाकर्मियों को काफी दिक्कत होती थी इसलिए प्रधानमंत्री कार्यालय से इन्हें भेजा गया हैं. यह जूता पुलिस और सीआरपीएफ जवानों के साथ पुजारियों, सेवादारों व सफाई कर्मियों को दिया जा रहा है. पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश और कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने पुजारियों सेवादारों सुरक्षाकर्मियों को फिलहाल पहली किस्त के तौर पर आए 100 जोड़ी जूट के जूते दिए हैं.

बता दे केवल ठंड ही नही बल्कि गर्मियों में भी जब फर्श गर्म हो जाती है तो नंगे पांव ड्यूटी करना मुश्किल होता है. ऐसे में सेवादारों पुजारियों और सुरक्षाकर्मियों के लिए के लिए जूट के ये डिजाइनर जूते बड़ी राहत साबित होंगे.

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker