Uttar Pradesh

Kairana Chunav: Kairana Chunav: ‘जाटों ने वोट नहीं दिया तो 1 मिनट नहीं लगेगा यहां…’- नाहिद हसन के समर्थक का Video वायरल

शामली. उत्तर प्रदेश में पहले चरण के मतदान (UP 1st Phase Voting) की तारीख करीब आने के साथ विधानसभा चुनाव (UP Assembly Elections 2022) बेहद दिलचस्प होता जा रहा है. यहां पश्चिमी यूपी की हॉट सीट कैराना (Kairana Assembly Seat) भी लगातार सुर्खियों में बना हुआ.

इस बीच समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी नाहिद हसन (Nahid Hassn) के कथित समर्थकों के दो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, जिसमें वह कैराना के जाट वोटरों को धमकी देते नजर आ रहे हैं. हालांकि News18 इन वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता.

सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में सपा-रालोद गठबंधन के संयुक्त प्रत्याशी प्रसन्न चौधरी दिखाई दे रहे हैं, जहां पर मुस्लिम समुदाय के कुछ लोग इकट्ठा हैं. यहां एक शख्स कह रहा है कि ‘अगर कैराना में जाटों ने नाहिद हसन को वोट नहीं दिया तो वे शामली सीट पर भूसा भर देंगे.

यहां हम एक मिनट नहीं लगाएंगे गड़बड़ी करने में.’बीजेपी नेता और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार शलभमणि त्रिपाठी ने भी यह वीडियो ट्वीट कर समाजवादी पार्टी पर निशाना साधा है.

“हमारा चौधरी (नाहिद हसन) जेल से चुनाव लड़ रहा,वहाँ 24 हजार जाट हैं और यहाँ हम 90 हजार,वहां जाट कह रहे कि नाहिद को वोट नहीं देंगे,हमारे चौधरी (नाहिद हसन) के साथ कुछ गड़बड़ हुई तो यहां हम एक मिनट न लगाएँगे गड़बड़ी करने में”दरअसल कैराना विधानसभा सीट पर 24000 जाट मतदाता हैं और कैराना के सपा विधायक नाहिद हसन जेल में हैं.

वहीं खबरें हैं कि जाट समुदाय के लोग नाहिद हसन को वोट करने से मना कर रहे हैं. इस बीच नाहिद हसन के समर्थकों ने मुस्लिम समाज के लोगों की एक मीटिंग बुलाई थी, जिसमें सपा-रालोद के संयुक्त प्रत्याशी प्रसन्न चौधरी को भी वहां बुलाया गया था.

प्रसन्न चौधरी के समक्ष मुस्लिम समुदाय के लोगों ने बात रखी. इस वीडियो में एक शख्स यह कहते सुना जा सकता है, ‘अगर कैराना में जाट मुसलमान के साथ दगा करते हैं तो शामली सीट पर 90000 जाट हैं, इलाज कर देंगे.’

यह वीडियो सोशल मीडिया पर काफी सुर्खियों में है और शामली में 2022 का विधानसभा चुनाव जाट vs मुसलमान हो चला है. हालांकि वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने संज्ञान लेते हुए वीडियो में दिख रहे युवक को गिरफ्तार कर लिया है और युवक के विरुद्ध चुनाव आचार संहिता का मुकदमा दर्ज किया है.

बता दें कि सपा-रालोद गठबंधन के टिकट बंटवारे के पश्चिमी यूपी की कई सीटों पर जाट बनाम मुसलमान की लड़ाई तेज होती दिख रही है, जिससे सपा-रालोद गठबंधन को बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है.

कैराना सीट से दो बार के सपा विधायक रहे नाहिद हसन चुनाव मैदान में हैं. हालांकि नाहिद हसन फिलहाल मुजफ्फरनगर जेल में बंद हैं और उनकी गैरमौजूदगी में उनकी बहन इकरा हसन चुनाव प्रचार कर रही हैं. हालांकि कैराना विधानसभा सीट पर नाहिद के समर्थक ज्यादा हैं और उनके समर्थक लगातार पूर्ण रूप से सपोर्ट करने की अपील कर रहे हैं.

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker