Uttar Pradesh

यूपी: बाली उमर का इश्क: पहली मुलाकात में मोहब्बत, अब साथ रहने की जिद, चार दिन से प्रेमी के घर के बाहर बैठी नाबालिग

यूपी के प्रतापगढ़ जिले से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिससे गांव वाले तो खुद परिवार वाले भी हार गए। काफी मान-मनौव्वल के बाद सभी अपने-अपने गंतव्य की ओर प्रस्थान कर गए। बात बाली उमर में इश्क की है। नाबालिग लड़की ने युवक से ऐसा दिल लगाया कि चार दिन से दोनों परिवारों की जान सांसत में डाल रखी है। नाबालिग शादी की जिद पर अड़ी है, लेकिन उसके परिजन जाति अलग होने के चलते राजी नहीं है।

मामला प्रतापगढ़-कुंडा जिले के तरदहा गांव का है। यहां के रहने वाले एक युवक का पट्टी कोतवाली के शेषपुर अठगवां गांव की एक किशोरी से उसकी मुलाकात हो गई थी। पहली ही मुलाकात में दोनों एक-दूसरे को दिल दे बैठे। मामला शादी तक पहुंचा तो परिजन अलग-अलग जाति का हवाला देकर रोड़ा बन गए। घरवालों की बात मानकर युवक ने किशोरी से बात करना बंद कर दिया। प्रेमी की बेरुखी बर्दाश्त नहीं हुई तो प्रेमिका प्रेमी के घर जा पहुंची।

दरवाजा नहीं खोला तो घर की चौखट पर ही धरना देकर बैठ गई। नाबालिग प्रेमिका को अपने घर से निकले हुए चार दिन बीत चुके हैं। चार दिनों से नाबालिग प्रेमी की चौखट के बाहर बिना कुछ खाए पिये धरने पर बैठी है। नाबालिग प्रेमी के साथ रहने की जिद कर रही है। नाबालिग लड़की की जिद देखकर गांव के तमाम लोग जुट गए और सूचना उसके परिजनों तक पहुंच गई। किशोरी के परिजन भी कुछ गणमान्य लोगों के साथ प्रेमी के घर पहुंचे और लड़की को जाति व उम्र का हवाला देकर समझाने लगे लेकिन वह किसी भी कीमत पर घर जाने को तैयार नहीं हुई।

आखिरकार किशोरी के परिजन निराश होकर लौट गए लेकिन किशोरी चार दिन से प्रेमी के दरवाजे पर भूखी-प्यासी डटी है। उसकी जिद है कि बिना प्रेमी से शादी किए वह कहीं जाने वाली नहीं है। कंधई एसओ त्रिलोकी नाथ पांडेय ने घटना की जानकारी से इनकार किया है।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker