Uttar Pradesh

यूपी चुनाव से पहले बोले शायर मुनव्वर राना- अगले 5 साल में योगी आ गए तो हम जिंदा नहीं बचेंगे

लखनऊ: उत्तर प्रदेश चुनाव में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Elections 2022) से पहले अपने बयानों की वजह से सुर्खियों में रहने वाले मशहूर शायर मुनव्वर राना (Munawwar Rana) फिर से चर्चा में हैं.

यूपी चुनाव को लेकर जारी सियासी घमासान के बीच शायर मुनव्वर राना (Munawwar Rana News) ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को निशाने पर लिया और कहा कि अगले पांच साल में योगी आ गए तो हम जिंदा नहीं बचेंगे. इतना ही नहीं, उन्होंने यह भी कहा कि वह पलायन करने के लिए भी तैयार बैठे हैं.

यूपी चुनाव के मद्देनजर मशहूर शायर मुनव्वर राना ने कहा कि पांच साल में तो हम बच गए, मगर अगले पांच साल में योगी आ गए तो हम जिंदा नहीं बचेंगे. मरना तो वैसे ही है लेकिन बेमौत नहीं मरना चाहता. बीजेपी के नेता पलायन करने वाले को पश्चिम यूपी में तलाश रहे है, मगर मैं यहां बैठा हूं पलायन करने के लिए, मुझसे कोई नहीं मिल रहा.

मैं इसी देश में मरूंगा, वो लोग और थे जो करांची चले गए.शायर मुनव्वर राना इससे पहले अपने कई बयानों को लेकर सुर्खियों में रह चुके हैं. बीते दिनों मुनव्वर राना ने महर्षि वाल्मीकि की तुलना तालिबानी आतंकियों से की थी.

इस बयान पर अखिल भारत हिंदू महासभा के प्रवक्ता ने हजरतगंज थाने में तहरीर दी थी, जिस पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया था. महासभा ने तहरीर में राना पर कार्रवाई की मांग की थी. हिंदूवादी संगठन के नेता से शिशिर चतुर्वेदी ने मुकदमा दर्ज कराया था.

यूपी में कब-कब है वोटिंग

बता दें कि उत्तर प्रदेश में सात चरणों में मतदान होना है. इसकी शुरुआत 10 फरवरी को राज्य के पश्चिमी हिस्से के 11 जिलों की 58 सीटों पर मतदान के साथ होगी. दूसरे चरण में 14 फरवरी को राज्य की 55 सीटों पर मतदान होगा.

उत्तर प्रदेश में तीसरे चरण में 59 सीटों पर, 23 फरवरी को चौथे चरण में 60 सीटों पर, 27 फरवरी को पांचवें चरण में 60 सीटों पर, तीन मार्च को छठे चरण में 57 सीटों पर और सात मार्च को सातवें चरण में 54 सीटों पर मतदान होगा. वहीं यूपी चुनाव के नतीजे 10 मार्च को आएंगे.

पिछले चुनाव के नतीजे

2017 विधानसभा चुनाव में एनडीए गठबंधन यानी बीजेपी प्लस को कुल 325 सीटें मिली थीं. इनमें से अकेले 312 सीटों पर जीत हासिल करने में कामयाब हुई थी. वहीं बीजेपी गठबंधन की अन्य दो पार्टियों में अपना दल (एस) ने 11 सीटों में नौ सीटें और ओपी राजभर की भारतीय सुहेलदेव समाज पार्टी ने आठ में से चार सीटें जीती थीं.

वहीं सपा और कांग्रेस गठबंधन को मात्र 54 सीटों के साथ संतोष करना पड़ा था. कांग्रेस महज सात सीट जीतने में सफल हो पाई थी. इसके अलावा, समाजवादी पार्टी को केवल 47 सीटों पर जीत मिली. वहीं बसपा ने 19 सीटों पर जीत हासिल की थी. रालोद को एक सीट और अन्य के खाते में 4 सीटें गई थीं.

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker