Uttar Pradesh

यूपी की लड़ाई, बजट पर आई: अखिलेश का शायराना हमला, मायावती भी बरसीं; योगी ने गिनाए फायदे

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव की लड़ाई मंगलवार को केंद्रीय बजट 2022 पर केंद्रित हो गई। एक तरफ जहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसके फायदे गिनाए तो विपक्ष ने जमकर आलोचना की।

समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शायराना अंदाज में बीजेपी सरकार को घेरा तो बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने कहा कि यह बजट जनता को लुभाने के लिए लाया गया है, लेकिन टैक्स के बोझ ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है।

सपा प्रमुख ने तुकबंदी करते हुए कहा कि कारोबार और नौकरी के साथ जनता की आमदनी घट गई है और अब लोगों की जेब काटने के लिए यह बजट आया है। उन्होंने लिखा, ” काम-कारोबार सब हुआ चौपट…ऐतिहासिक मंदी, लाखों की नौकरी कर गयी चट…आम जनता की आमदनी गयी घट…बेकारी-बीमारी में बैंकों में जमा निकली सारी बचत…अब लोगों की जेब काटने के लिए आया भाजपा का एक और बजट… उप्र से भाजपा के दुखदायी युग का अंत शुरू हो रहा है! यूपी कहे आज का, नहीं चाहिए भाजपा।”

मयावती बोलीं- पुराने वादों को भूली सरकार

बीएसपी सुप्रीमो मायावीत ने भी बजट की आलोचना करते हुए कहा, ”संसद में आज पेश केंद्रीय बजट नए वादों के साथ जनता को लुभाने के लिए लाया गया है, जबकि गतवर्षों के वादों व पुरानी घोषणाओं आदि के अमल को भुला दिया गया है, यह कितना उचित। केंद्र बढ़ती गरीबी, बेरोजगारी, महंगाई और किसानों की आत्महत्या जैसी गंभीर चिन्ताओं से मुक्त क्यों?”

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, ”केंद्र सरकार द्वारा अपनी पीठ आप थपथपा लेने से अभी तक देश की बात नहीं बन पा रही है। करों की मार लोगों का जीना दुभर किए हुए है। इसीलिए केंद्र का भरसक प्रयास खासकर बेरोजगारी व असुरक्षा आदि के कारण लोगों में छाई तंगी, मायूसी व हताशा को कम करने की हो तो बेहतर।

”पुराने जुमले और सब्सिडी पर प्रहार: प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि बजट से ना तो किसानों को राहत गई और ना ही युवाओं को रोजगार। उन्होंने कहा, ” न किसानों की आय दुगनी, न मध्यम वर्ग को टैक्स में छूट, न महंगाई से निजात, न छोटे उद्योगों को राहत, न युवाओं को रोजगार> बस पुराने हो चुके जुमले और सब्सिडी पर प्रहार। यही है मोदी सरकार के बजट का सार।”

योगी ने की तारीफ

उत्तर प्रदेश के मुख्ममंत्री योगी आदित्यनाथ ने केंद्रीय बजट को किसानों की आय दोगुनी करने वाला और महिलाओं को नए अवसर देने वाला बताया। योगी आदित्यनाथ ने कहा,” आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना को साकार करने वाला, सर्वसमावेशी, प्रगतिशील और कोरोना कालखंड में आत्मनिर्भर भारत की अर्थव्यवस्था को दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में बढ़ाने वाला यूनियन बजट का हम स्वागत करते हैं।

समाज के प्रत्येक तबके का खासतौर पर किसानों, महिलाओं और युवाओं के लिए प्रगतिशील बजट प्रस्तुत करने के लिए हम प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री का आभार व्यक्त करते हैं।”मुख्यमंत्री ने कहा, ”बजट में जो बहुत महत्वपूर्ण प्रावधान है, एमएसपी के लिए, किसानों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य को प्राप्त करने लिए, यह किसानों की वर्षों से चली आ रही मांग को पूरी करता है, पीएम मोदी के संकल्प को भी पूरा करता है।

युवाओं के लिए 60 लाख नौकरियां यह भारत के युवाओं को और स्वभाविक रूप से उत्तर प्रदेश देश की आबादी का सबसे बड़ा और युवा राज्य है, यूपी के युवाओं को और भी आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा। महिलाओं के कई ऐसे कार्यक्रम का प्रावधान बजट में है जो महिला सशक्तिकरण में सहायक होगा।”

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker