Wednesday, January 19, 2022
HomeUttar Pradeshयुवक ने पहले मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत की शादी, अब...

युवक ने पहले मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत की शादी, अब दहेज की मांग कर पत्नी को घर से निकाला, पढ़ें पूरा मामला

बदायूं ।  थाना अलापुर के इस्लामगंज निवासी युवती की शादी शाहजहांपुर के युवक से मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत हुई थी। लेकिन शादी के कुछ दिन बाद ही ससुरालीजनों ने दहेज की मांग शुरू कर दी। अब विवाहिता को पीटकर घर से निकाल दिया।

इस मामले की शिकायत थाना अलापुर में हुई तो पुलिस ने पति समेत चार ससुरालीजनों के खिलाफ मारपीट व दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कर दिया है।थाना अलापुर क्षेत्र के गांव इस्लामगंज निवासी नबी हसन ने बताया कि उनकी बेटी फूलबानो की शादी 14 नवंबर 2019 को मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत जलालाबाद निवासी मोबिन अंसारी के साथ हुई थी।

शादी के समय सरकार की ओर से मिलने वाला सामान तो मिला ही था साथ ही उसने भी बेटी की खुशी के लिए काफी सामान दिया था। नबी हसन का आरोप है कि शादी के कुछ समय बाद से ही ससुराल पक्ष के लोग एक बाइक और 50 हजार रुपये की मांग करने लगे। वह आए दिन बेटी फूलबानो को ताने देते और उसकी पिटाई करते थे।

तीन नवंबर को उसके साथ ससुर एजाज, सास रवीना और जेठ हसीन ने उसकी पिटाई की। उन लोगों ने उसे उस दिन इतना पीटा कि वह बेहोश हो गई। इसके बाद आरोपीगणों ने उसे घर से बाहर गली में फेंक दिया। किसी तरह वह अपने घर पहुंची और मायके वालों को पूरी जानकारी दी।

इसके बाद से वह नबी हसन के घर ही रह रही है। रिश्तेदारों की पंचायत बैठी लेकिन मामला नहीं सुलझा। इसके बाद नबी हसन ने थाने अलापुर में तहरीर दी। इसके बाद थाना पुलिस ने सास रवीना, ससुर एजाज, जेठ हसीन और पति मोबिन के खिलाफ दहेज अधिनियम और मारपीट करने के मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया है। इंस्पेक्टर संजय कुमार सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही आरोपितों की गिरफ्तारी की जाएगी।

- Download Hind Morcha News App -hind-morcha-news-app
hind morcha news app

Most Popular