Uttar Pradesh

महाराजगंज: तेंदुए के हमले में 10 वर्षीय मासूम की मौत, जंगल में क्षत-विक्षत हालत में मिला शव

महाराजगंज: उत्तर प्रदेश के महाराजगंज में एक 10 वर्षीय बालक को तेंदुए ने अपना शिकार बनाया. मासूम पर हमला कर तेंदुए ने उसकी जान ले ली. घटना जिले के नौतनवा थाना क्षेत्र के चकदह की है. जहां कल यानी बुधवार की शाम करीब 5 बजे 10 वर्षीय बालक, अपने कई साथियों के साथ बकरी चराने के लिए गया था. बालक अपने साथियों के साथ ही गांव के सिवान में बकरी चराने गया था. कल देर रात होने तक भी जब मासूम अपने घर नहीं लौटा तो परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरू की. काफी खोजबीन करने के बावजूद कल रात बालक का कोई पता नहीं चला.

आज यानि गुरुवार सुबह होने पर परिजनों ने फिर बालक की खोजबीन शुरू की तो गांव से सटे जंगल में दर्दनाक मंजर देखने को मिला. जंगल में 10 वर्षीय बालक की लाश क्षत-विक्षत अवस्था में पड़ी हुई थी. वहां मौके पर तेंदुए के पैरों के निशान भी मिले. इसके अलावा तेंदुए द्वारा बालक को घसीटने के निशान भी मिले हैं. अंदाजा लगाया जा रहा है कि तेंदुआ बालक को घसीट कर जंगल ले गया था.

परिजनों का बुरा हाल

जंगल में बालक की लाश मिलने के बाद नौतनवा थाना क्षेत्र के चकदह गांव में मातम पसरा हुआ है. परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है. लोगों का कहना है कि गांव में तेंदुआ उनके पशुओं को निशाना बनाते रहते हैं, लेकिन आज बच्चे को भी नहीं छोड़ा. वन विभाग पर नाराजगी जताते हुए स्थानीय लोगों ने हिंसक जानवरों से रक्षा की गुहार लगाई है. स्थानीय लोगों का कहना है कि कई बार शिकायतों के बावजूद वन विभाग ने सुरक्षा के मद्देनजर कुछ नहीं किया.

इससे पहलेे भी हो चुकी है कई घटनाएं

आपको बता दें कि महाराजगंज जिले के बड़े भूभाग में सोहगी वरवा वन्य जीव प्रभाग फैला हुआ है. यहां अक्सर जंगली जानवर इलाकों में ताण्डव मचाते रहते हैं. महाराजगंज जिल के सोहगी वरवा वन्य जीव प्रभाग केे अलग-अलग क्षेत्रों में लगातार हिंसक पशु किसानों की मवेशियों को अपना निवाला बनाते रहते हैं. कई बार ऐसी घटनाएं सामने आ चुकी हैं जब जंगली जानवरों ने किसी पशु को अपना शिकार बनाया है.

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker