Uttar Pradesh

टैबलेट-स्‍मार्ट फोन के साथ उसे चलाने का खर्च भी देगी सरकार, CM योगी बोले-अब पढ़ाई के साथ ही कॅरियर भी चुनेंगे छात्र

टैबलेट-स्‍मार्ट फोन के साथ उसे चलाने का खर्च भी देगी सरकार, CM योगी बोले-अब पढ़ाई के साथ ही कॅरियर भी चुनेंगे छात्र सीएम ने कहा कि विद्यार्थियों को बिना कोई खर्च किए बेहतरीन कंटेंट और पाठ्यक्रम की सुविधा उपलब्‍ध होगी। सीएम ने कहा कि देश में आबादी के लिहाज से सबसे बड़े राज्य के युवा अब स्मार्ट बनेंगे।

इन टैबलेट और स्मार्ट फोन में केंद्र व प्रदेश सरकार की रोजगारपरक योजनाओं की संपूर्ण जानकारी एक क्लिक पर उपलब्ध होगी। सरकार युवाओं की पढ़ाई, प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए ऐसे इंतजाम सुनिश्चित कर रही है जिससे उन्हें बाहर जाने की नौबत न आए।

मुख्‍यमंत्री, शुक्रवार को गोरखपुर के भरोहिया विकास खंड में राष्ट्र संत ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की प्रतिमा का अनावरण करने करने के बाद विद्यार्थियों को मुफ्त टैबलेट-स्मार्ट फोन वितरण और 68 करोड़ रुपये की परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास समारोह को संबोधित कर रहे थे।

इस मौके पर उन्‍होंने 50.48 करोड़ रुपये की लागत से पूर्ण 15 परियोजनाओं का लोकार्पण और 17.31 करोड़ रुपये की लागत वाली पांच परियोजनाओं का शिलान्यास किया। सीएम योगी ने प्रदेश के पहले स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट का शिलान्यास और सूचना संकुल का लोकार्पण भी शामिल है।

समारोह में 1000 छात्रों को टैबलेट-स्मार्ट फोन का वितरण किया गया जिसमें 22 विद्यार्थियों को मंच पर मुख्यमंत्री के हाथों टैबलेट-स्मार्ट फोन मिला।पढ़ाई के दौरान ही कॅरियर का रास्‍ता चुन सकेंगे छात्र

सीएम योगी ने कहा कि टैबलेट और स्मार्टफोन के जरिए युवा पढ़ाई के दौरान ही अपने करियर का रास्ता चुन सकेंगे। इसके लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, स्टार्टअप योजना, स्टैंडअप योजना, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, ओडीओपी, विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना को भी टेबलेट व स्मार्ट फोन से जोड़ा जा रहा।

मुफ्त कोचिंग की सुविधा दे रही सरकार

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की तरफ से प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए 10 हजार युवाओं को मुफ्त टैबलेट-स्मार्ट फोन देकर उन्हें अभ्युदय योजना के अंतर्गत निशुल्क कोचिंग की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। कोरोनाकाल के दौरान कोटा (राजस्थान) में फंसे प्रदेश के 15 हजार युवाओं को वहां के कांग्रेस सरकार के असहयोग के बावजूद 500 बसों को भेजकर सुरक्षित वापस उनके घर पहुंचाया।

प्रदेश में ही निशुल्क अभ्युदय कोचिंग की व्यवस्था हो जाने से अब यहां के युवाओं को बाहर जाने की नौबत नहीं आएगी। अभ्युदय कोचिंग ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों मोड में उपलब्ध कराई जा रही है। बेहतर पाठ्यक्रम के साथ ही आईएस, आईपीएस, पीसीएस, पीपीएस अधिकारियों, डॉक्टर-प्रोफेसर को जोड़ा जा रहा है।

स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के लिए खुद को तैयार करें युवा

सीएम योगी आदित्यनाथ ने युवाओं का आह्वान किया कि ज्ञान असीमित होता है, इसकी कोई सीमा नहीं होती। जितना अर्जित हो सके इसे उतना अर्जित करना चाहिए। युवा खुद को स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के लिए तैयार करें क्योंकि शॉर्टकट से स्थाई सफलता नहीं मिलती। स्थाई सफलता के लिए परिश्रम से इमानदारी पूर्वक प्रयास करना होगा।

सीएम ने कहा कि नए भारत का नया उत्तर प्रदेश इस दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहा है। पौने पांच वर्ष के कार्यकाल में सरकार ने 4.5 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दी है। 1.61 करोड़ को अन्य रोजगार एवं 60 लाख को स्वतः रोजगार से जोड़ा गया है। इतने बड़े पैमाने पर युवाओं का सेवायोजन पहले कभी नहीं हुआ था। यह इस बात का भी प्रमाण है कि सोच ईमानदार हो तो काम भी दमदार दिखता है।

छात्रों से की वैक्‍सीन लगवाने की अपील

सीएम योगी ने विद्यार्थियों को कोविड वैक्सीन लगवाने को प्रेरित किया। कहा कि 15 वर्ष से अधिक उम्र के विद्यार्थी वैक्सीन जरूर लगवा लें। कोरोना के खिलाफ लड़ाई को जीतना है तो इसमें सभी को सहभागी बनना होगा। सीएम ने कहा कि थर्ड वेव खतरनाक नहीं है लेकिन सावधानी व सतर्कता आवश्यक है। जिन लोगों को पहले से गंभीर बीमारी हो तो वह बीमारी को छिपाकर आ बैल मुझे मार वाली स्थिति न बनाएं। बीमारी से भागें या घबराएं नहीं बल्कि सतर्कता बढ़ाएं।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker