Uttar Pradesh

जिन्ना के बाद पाकिस्तान पर बोलकर घिरे अखिलेश यादव, बीजेपी का जोरदार पटलवार; कहा – माफी मांगें सपा अध्यक्ष

लखनऊ : भारत का असली दुश्मन पाकिस्तान नहीं है। एक इंटरव्यू में अखिलेश यादव की ओर से दिए गए इस बयान को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने मुद्दा बना लिया है। अब तक ‘जिन्ना’ वाले बयान पर सपा अध्यक्ष को घेर रही बीजेपी ने अब उन्हें ‘पाकिस्तान प्रेमी’ बताने में जुट गई है।

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने सोमवार को लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए अखिलेश पर जोरदार पलटवार किया और कहा कि याकूब मेनन फांसी पर चढ़ गया नहीं तो अखिलेश उसे भी टिकट देते वह कसाब को स्टार प्रचारक बना लेते।

संबित पात्रा ने कहा, ”एक तरफ जहां पूरा देश उत्तर प्रदेश का स्थापना दिवस मना रहा है। वहीं अखिलेश यादव ने एक साक्षात्कार में कहा कि पाकिस्तान हिन्दुस्तान का असली दुश्मन नहीं है। अखिलेश यादव का कहना कि वह पाकिस्तान को भारत का असली दुश्मन नहीं मानते और बीजेपी केवल वोट की राजनीति की वजह से पाकिस्तान को दुश्मन मानती है। दुखद, चिंताजनक और शर्मनाक। तुरंत अखिलेश यादव को इस पर माफी मांगनी चाहिए।”

बीजेपी प्रवक्ता ने पूछा अखिलेश जी क्या कश्मीर के बंधु हमारे भाई नहीं? जिन कश्मीर के बंधुओं पर रोज पाकिस्तान की गोली चलती है। गोलाबारी होती है और निहत्थे लोग निर्दोष लोग पाकिस्तान की ओर से भेजे आतंकी द्वारा मारे जाते हैं। हर समय जिस तरह पाकिस्तान साजिश के तहत आतंकी हमले करता है, क्या भारत का दुश्मन पाकिस्तान नहीं है।

आपका यह कहना कि भारत का असली दुश्मन पाकिस्तान नहीं है, यह तो बीजेपी दुश्मन बना रही है। जिन्ना से जो करे प्यार वह पाकिस्तान से कैसे करे इनकार। जिन्ना का रट लगाते हुए इस चुनाव में अखिलेश यादव उतरे थे और आज एक पायदान ऊपर पाकिस्तान तक पहुंच गए।पात्रा ने कहा, ”मीडिया कहती है कि जब चुनाव आता है तो बीजेपी पाकिस्तान को लाती है, हम नहीं लगाते हैं, आज सुबह देखिए स्थापना दिवस पर योगी जी का क्या संदेश है।

और आज अखिलेश यादव की सुर्खियां हैं, कि पाकिस्तान भारत का दुश्मन नहीं है। पाकिस्तान को लेकर कौन आया, अखिलेश आए, जिन्ना को लेकर कौन आया, अखिलेश लेकर आए। तुष्टिकरण के पराकाष्ठा के कारण जिस तरह अखिलेश यादव जिन्ना और पाकिस्तान की बात कर रहे हैं।

बीजेपी प्रवक्ता ने सपा के उम्मीदवारों की सूची पर सवाल उठाते कहा कि शुक्र है कि याकूब मेनन को फांसी दे दी गई है नहीं तो अखिलेश जी उन्हें भी देशभक्त बताकर दंगाई नाहिद हसन की तरह ही अपना प्रत्याशी बना देते। शुक्र है कि कसाब को फांसी हो चुकी है। कसाब को भी स्टार प्रचारक बनाकर उतार देते।

अखिलेश यादव ने आतंकवादियों को कोर्ट से छुड़वाने की अपील की थी। बीजेपी अखिलेश यादव को चुनौती देती है कि यदि आपमें हिम्मत है तो आप अपने उम्मीदवारों की सूची जारी करिए। कौन कहां से लड़ रहा है, इसकी सूची जारी करिए।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker