Uncategorized

हाईवे पर चक्काजाम रोकने गई लेडी IPS का कॉलर पकड़ा, ASI की कर दी पिटाई, Video वायरल

रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में एक महिला पुलिस इंस्पेक्टर की प्रदर्शनकारी महिलाओं ने पिटाई कर दी. पुलिस की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. घटना बीते 10 जनवरी की बताई जा रही है. दरअसल छत्तीसगढ़ के पुलिस परिवारों ने अपनी मांगों को लेकर रायपुर में फिर बड़ा प्रदर्शन किया.

प्रदेश भर से आए पुलिस परिजनों ने नाराजगी और आक्रोश जाहिर करते हुए बीते सोमवार को भाठागांव के पास नेशनल हाईवे पर चक्का जाम कर दिया, जिसकी वजह से कई घंटों तक आवागमन प्रभावित रहा. कई किलोमीटर लंबा जाम भी लगा रहा, आंदोलन कर रहे परिजनों में बड़ी संख्या में महिलाएं भी थीं, जो अपनी मांगों को लेकर बारिश में भीगकर भी लगातार नारेबाजी करती रहीं.

महिलाओं की मौजूदगी को देखते हुए बड़ी संख्या में महिला पुलिस बल की तैनाती भी मौके पर की गई थी. काफी देर तक पुलिस आंदोलनकारियों को समझाने की कोशिश करती रही. लेकिन पुलिस परिजन मांगे माने जाने तक चक्का जाम ख़त्म करने को तैयार नहीं थे. बाद में पुलिस बल का प्रयोग करते हुए सभी आंदोलनकारियों को रायपुर सेंट्रल जेल भेज दिया गया.

इसी बीच ट्रेनी आईपीएस रत्ना सिंह उन्हें हटाने पहुंचीं तो प्रदर्शनकारियों ने उनका कॉलर पकड़ लिया. इसके बाद उन्हें बचाने गई एक महिला एएसआई प्रदर्शनकारियों के बीच पहुंची, जिसकी प्रदर्शनकारी महिलाओं ने पिटाई कर दी.

गिरफ्तारी का विरोध

दरअसल पुलिस परिवार का बीते सोमवार को रायपुर में एक बड़ा सम्मेलन था, जिसके लिए प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों से परिजन पहुंचे थे. लेकिन सम्मेलन के पहले ही पुलिस परिवार आंदोलन का नेतृत्व कर रहे उज्जवल दीवान को पुलिस उठाकर ले गई. जिसके विरोध में ही पुलिस परिवार ने हाईवे पर घंटों तक चक्का जाम किया‌.

बता दें कि पुलिस परिवार की मांगों को लेकर राज्य सरकार द्वारा एक कमेटी गठित कर दी गई है, लेकिन प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि कमेटी गठित कर उनकी मांगों को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है और इसलिए आज आगामी प्रदर्शन की रणनीति बनाने के लिए यहां प्रदेश भर से बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी जुटे हुए थे.

इनकी गिरफ्तारी

आंदोलन के नेता उज्ज्वल दीवान, नवीन राय, जितेंद्र जायसवाल और संजीव मिश्रा समेत 10 आंदोलनकारियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया. नेशनल हाईवे जाम करने के आरोप में आंदोलन के नेता राकेश यादव समेत कई अन्य पर रास्ता जाम करने और बलवे का मामला दर्ज किया गया.

साथ ही समझाइश देने गयी महिला पुलिस अधिकारी के साथ मारपीट करने वाले अज्ञात आंदोलनकारियों के खिलाफ शासकीय सेवक पर हमला और शासकीय कार्य मे बाधा का मामला दर्ज किया गया. पूरे मामले में डीडी नगर थाना पुलिस ने कार्रवाई की है.

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker