Uncategorized

जिला पंचायत अध्यक्ष और भाजपा नेता डॉक्टर गुरुभाग सिंह के प्रयास से हाईवे से पीटीआर और तराई को जाड़ने वाली सड़कें को मिली मंजूरी

16 सितंबर को जिला पंचायत अध्यक्ष और भाजपा नेता गुरुभाग सिंह ने मुख्यमंत्री से की थी मुलाकात

पीलीभीतटाइगर रिजर्व पहुंचने वाले सैलानियों और बार्डर के नजदीक रहने वाले ग्रामीणों को सड़क से गुजरने में हिचकोले नहीं खाने पड़ेंगे। जिला पंचायत अध्यक्ष और भाजपा नेता गुरुभाग सिंह के प्रयास से हाटमिक्स सड़कों के निर्माण की मंजूरी मिल गई है। यह सड़के सीधे हाईवे से जुड़ेंगी। इस प्रयास की क्षेत्र में काफी सराहना की जा रही है। अगले सप्ताह कार्य शुरू होने की संभावना जताई जा रही है।
पीलीभीत जिला पंचायत अध्यक्ष डॉ दलजीत कौर और उनके पति भाजपा नेता डॉक्टर गुरुभाग सिंह ने 16 सितम्बर को लखनऊ पहुंचकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात  कर पीलीभीत के विकास पर चर्चा की थी। जिला पंचायत अध्यक्ष डॉ दलजीत कौर और भाजपा नेता डॉक्टर गुरुभाग सिंह ने मुख्यमंत्री को कई पत्र सौंपे थे। मुख्यमंत्री ने इसे गंभीरता से लेते हुए बस्ती मार्ग से हरदोई नहर मार्ग से दियूरिया कला टूटा पुल मार्ग निर्माण और दियूरिया कला से एन एच 730 हरदोई ब्रांच नहर पटरी से माधोटांडा बाइफरकेशन होते हुए मार्ग को हाट मिक्स से बनने की मंजूरी मिल गई है। आपको बता दें यह मार्ग पहले 3 मीटर चौड़ा था। अब हार्ट मिक्स मार्ग 3.75 मीटर की चौड़ाई से बनेगा। इसका टेंडर जी निकाला जा चुका है। अगले सप्ताह में सड़क निर्माण के कार्य शुरू होने की संभावना जताई जा रही है। हाईवे से सीधे जुड़ने के बाद क्षेत्र के लोगों और पर्यटकों को काफी सहूलियत मिलेगी। जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि डॉ गुरुभाग सिंह ने बताया सड़कों की समस्याएं मुख्यमंत्री के समक्ष प्रमुखता से रखी थी। इनकी मंजूरी मिलने से अब पीलीभीत टाइगर रिजर्व के पर्यटक को बढ़ावा मिलेगा। इसके साथ ही क्षेत्र के लोगों को मार्ग से गुजरने में परेशानी नहीं उठानी पड़ेगी। पीलीभीत के विकास के लिए फिर मुख्यमंत्री से मिलकर अवगत कराया जाएगा।
———
राहगीरों को हिचकोले से मिलेगी निजात

मार्ग दियूरिया मार्ग से हरदोई ब्रांच नहर पटरी से होकर  फोर लेन व टू लेन के बीच से गुजरता है। मार्ग जर्जर व सकरा होने से आवागमन में काफी दिक्कत होती है। यह मार्ग पड़ोसी देश नेपाल की सीमा तक जाता है। 40 किलोमीटर लंबाई वाले रास्ते का कायाकल्प होने से तराई क्षेत्र के लोगों को काफी फायदा मिलेगा। सड़क निर्माण से पीलीभीत टाइगर करवाने वाले पर्यटकों को भी काफी सहूलियत मिलेगी।

रिपोर्ट- शैलेंद्र शर्मा व्यस्त

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button
error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker