State

पत्नी को रखना चाहता था अपने पास, सास के न मानने पर किया आत्महत्या; जानें पूरा मामला

हरियाणा से आया व्यक्ति बुधवार को धतकीडीह तालाब में आत्महत्या के कर ली। रात के लगभग 10 बजे डूबने के तीन घंटे के बाद उसका शव मिला। उसकी तलाश में गोताखोर मजहरुल बारी की मदद ली गयी। मृतक का नाम सुनील कुमार वर्मा (49) है। उसका ससुराल धतकीडीह रेडियो मैदान के पास है।

क्या है पूरा मामला

बताया जा रहा है कि पत्नी से किसी बात को लेकर विवाद होने के बाद वह तालाब के किनारे आ गया। वह अपने साथ बैग लेकर आया था। यहां तालाब के किनारे पहले अपने साथ लाया हुआ भोजन किया उसके बाद उसने तालाब में छलांग लगा दी। उसे छलांग लगाते हुए स्थानीय कार धोने वालों ने देखा और शोर मचाया।

तीन साल बाद आया था हरियाणा से

कांग्रेस नेता सुरेश मुखी ने बताया कि तीन साल के बाद सुनील हरियाणा से जमशेदपुर आया था। उसने अपने दोस्त रितेश मुखी से कहा कि उसका पत्नी से विवाद चल रहा है। उसका निपटारा करने के लिए आया हुआ है। उसने रितेश के घर में ही अपना सामान रख दिया और वहां से दिन के 3.30 बजे निकल गया।

दोस्तों के व्हाट्सएप ग्रुप में भेजा आत्महत्या करने का मैसेज

उसके बाद रितेश और उसके दोस्तों के द्वारा एक व्हाट्सएप ग्रुप फ्रेंड्स फॉरएवर बनाया गया है। उसमें उसने मैसेज लिखा कि मेरी मौत का जिम्मेदार मेरी सास और पत्नी होगी। यह मैसेज रितिक ने भी देखा और वह भागकर बस्ती के नेता और अपने भाई सुरेश मुखी के पास गया। वे लोग पुलिस को जाकर घटना की सूचना देने ही वाले थे कि तब तक सुनील के तालाब में कूदने की जानकारी पुलिस को मिली और उसके मोबाइल के अंतिम कॉल के आधार पर उसने सुनील को कॉल किया। देर रात तक उसकी तलाश जारी है। लोगों की भारी भीड़ वहां एकत्रित हो गयी है। लगातार दो घंटे तालाब में ढूंढने के बाद शव रात के 10 बजे मिला।

क्यों हुआ विवाद

स्थानीय लोगों ने बताया कि सुनील वर्मा पहले जमशेदपुर में रहता था। उसने प्रेम विवाह रेडियो मैदान के पास रहने वाली एक युवती से किया था। लड़की का परिवार इसके लिए राजी नहीं था। सुनील लड़की को हरियाणा ले जाना चाहता था लेकिन परिवार के लोग उसे जाने नहीं दे रहे थे। इसे लेकर पहले समझौता हुआ था और लड़की के घर वालों ने उसे सुनील को सौंपने से इंकार कर दिया था। दोबारा तीन साल के बाद सुनील अपनी पत्नी को ले जाने के लिए आया जहां उसका विवाद हुआ और उसके बाद उसने तालाब में छलांग लगाकर जान दे दी।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker