Religious

ईशन नदी के पानी में तैरता मिला राम नाम लिखा पत्थर, वीडियो वायरल

भगवान श्रीराम लंका पर चढ़ाई करने पहुंचे तो विशाल समुद्र को पार करना बड़ी चुनौती थी। ऐसे में भगवान राम की सेना ने राम लिखकर समुद्र में पत्थर डाले तो वे तैरने लगे। इन पत्थरों का एक पुल बनाया गया जिसे पार कर भगवान राम और उनकी सेना ने श्रीलंका पर विजय प्राप्त की। पानी में पत्थर तैर सकते हैं, ये भले ही कौतूहल की बात मानी जाती हो लेकिन कुसमरा क्षेत्र के गांव अहिमलपुर के निकट से गुजरी नदी में राम नामी पत्थर तैर रहे हैं।

अहिमलपुर बेवर थाना क्षेत्र का गांव है। लेकिन ये किशनी थाना क्षेत्र की सीमा से जुड़ा है। कुसमरा क्षेत्र के नजदीक स्थित अहिमलपुर गांव के निकट से ईशन नदी गुजरती है। इस नदी पर रविवार को कुछ लोग पहुंचे तो वहां उन्हें तैरते हुए पत्थर दिखे। इन पत्थरों पर भगवान राम लिखा हुआ था और ये पानी में तैर रहे थे।

https://twitter.com/HindustanUPBH/status/1554433337917599744?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1554433337917599744%7Ctwgr%5Ed85289b609232b8ccdf28ed576a7cf0be61da8ba%7Ctwcon%5Es1_&ref_url=https%3A%2F%2Fwww.livehindustan.com%2Futtar-pradesh%2Fstory-stone-written-name-ram-was-found-floating-waters-ishan-river-of-mainpuri-video-viral-6871146.html

जानकारी मिलते ही बड़ी संख्या में लोग मौके पर पहुंच गए। ग्रामीणों का कहना है कि राम नाम लिखा पत्थर नदी में तैर रहा था। ग्राम प्रधान नितिन पांडेय भी खबर पाकर वहां पहुंच गए और पत्थर को अपनी सुपुर्दगी में ले लिया। इस पत्थर को घर लाकर पानी भरे टब में डाला गया तो भी ये पत्थर तैर रहा था। नदी में फेंककर देखा गया पत्थर

कुछ लोगों ने नदी में पत्थर फेंका तो यह डूबने की बजाय तैरने लगा। ग्रामीण पत्थर की इस कहानी को लेकर हैरान हैं और इस पत्थर को भगवान राम के त्रेतायुग से जोड़कर देख रहे हैं। इस संबंध में एसडीएम भोगांव कुलदेव सिंह का कहना है कि मामले की जानकारी मिली है, जांच कराई जा रही है। ग्रामीण इस पत्थर को लेकर कौतूहल में डूबे हुए हैं। बताया यह भी गया है कि गांव का रामजी सक्सेना पुत्र लेखपाल कुछ बच्चों के साथ नदी के पास गया तो उन्होंने सबसे पहले इन पत्थरों को देखा। इन बच्चों ने नदी में कूदकर यह पत्थर निकाला और वीडियो बनाई, ये पत्थर वे घर ले आए।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker