PoliticsUttar Pradesh

UP की इस हाई प्रोफाइल सीट पर सबकी नजर, BJP को भाए ‘पंच’ प्यारे, मगर 1 दिग्गज की सीट पर छोड़ दिया सस्पेंस!

उन्नाव: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh News) के उन्नाव (Unnao News) में चुनावी रणभेरी बजने के बाद बीजेपी (BJP candidates List) ने अपने पत्ते 6 में से 5 सीटों पर खोल दिये हैं, एक सीट पर सस्पेंस अभी भी बरकरार है क्योंकि वर्तमान में यूपी के विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित भगवंतनगर सीट से मौजूदा विधायक हैं. देर शाम जारी हुई बीजेपी की इस लिस्ट में भगवंत नगर सीट से किसी को प्रत्याशी नहीं बनाया गया है और ना ही लिस्ट में किसी का नाम है. ऐसे में सवाल उठने लगा है कि भगवंतनगर सीट से प्रत्याशी कौन होगा ? या विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित फिर चुनाव लड़ेंगे या नहीं ?

कलम, क्रांतिकारियों की धरती लिखेगी जीत की इबारत !

उन्नाव में टोटल 6 विधानसभा हैं. उन्नाव में वोटर्स की संख्या 2285970 है. कलम और क्रांतिकारियों की इस धरती ने चंद्रशेखर आजाद वीर, सूर्यकांत त्रिपाठी निराला जैसे महान कवि दिए हैं. उन्नाव में जहां साल 2012 में समाजवादी पार्टी को 5 विधानसभा सीटें मिलीं थीं, जबकी मोहान विधानसभा सीट पर बसपा की जीत हुई थी, वहीं साल 2017 में बीजेपी को जबरदस्त उछाल मिला. 5 विधानसभा सीटों से सपा का सफाया हो गया, 5 सीटें बीजेपी के खाते में गईं, जबकी 1 सीट पर बीएसपी प्रत्याशी जाती ( पुरवा सीट पर बीएसपी प्रत्याशी अनिल सिंह जीते, राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग करने पर उन्हें बीएसपी से निष्कासित कर दिया गया था, अब वो बीजेपी के साथ हैं.)

6 में 5 टिकट हुए जारी, 1 बड़ी सीट पर सस्पेंस बना

वहीं शुक्रवार देर शाम जारी हुई लिस्ट में 6 में से 5 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने मौजूदा विधायकों पर भरोसा जताया है, 2017 में पुरवा सीट बसपा से जीतकर आए अनिल सिंह बसपा छोड़ भाजपाई हो गए. भाजपा ने अनिल सिंह को पुरवा सीट से प्रत्याशी बनाया है, जबकी उन्नाव सदर से पंकज गुप्ता, सफीपुर से बम्बालाल दिवाकर, बांगरमऊ से श्रीकांत कटियार, मोहान से ब्रजेश रावत को फिर से मैदान में उतारा है.

विधानसभा अध्यक्ष जहां से जीते चुनाव वहां हो गया ‘खेल’ !

बीजेपी शीर्ष नेतृत्व ने लिस्ट तो जारी कर दी लेकिन उसमें 6 में से 5 विधानसभा प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की गई है, जबकी भगवंतनगर सीट से मौजूदा विधायक और उत्तर प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित या किसी अन्य का भी टिकट नहीं जारी किया गया है, जिससे भगवंतनगर सीट पर सस्पेंस खड़ा हो गया है, वहीं प्रत्याशी घोषित ना होने से दावेदारों की भी निगाहें टिकी हुई हैं.

2012 और 2017 में किसको कितनी सीटें मिलीं

उन्नाव में जहां साल 2012 में समाजवादी पार्टी को 5 विधानसभा सीटें मिलीं थीं, जबकी मोहान विधानसभा सीट पर बसपा की जीत हुई थी, वहीं साल 2017 में बीजेपी को जबरदस्त उछाल मिला. 5 विधानसभा सीटों से सपा का सफाया हो गया, 5 सीटें बीजेपी के खाते में गईं, जबकी 1 सीट पर बीएसपी प्रत्याशी जीता (पुरवा सीट पर बीएसपी प्रत्याशी अनिल सिंह जीते, राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग करने पर उन्हें बीएसपी से निष्कासित कर दिया गया था, अब वो बीजेपी के साथ हैं. )

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker