Politics

शिवपाल यादव की योगी ने 2 बार कर दी तारीफ, फिर खुद को रोक ना सके अखिलेश यादव; खूब लगे ठहाके

उत्तर प्रदेश विधानसभा में शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा का जवाब देते हुए समाजवादी पार्टी और इसके अध्यक्ष अखिलेश यादव पर जमकर हमले किए। वह एक तरफ नेता प्रतिपक्ष पर तीखे वार कर रहे थे तो दूसरी तरफ अखिलेश के चाचा शिवपाल यादव की सराहना करने से नहीं चूके।

मुख्यमंत्री ने करीब 2 घंटे लंबे भाषण में दो बार शिवपाल यादव की तारीफ की तो अखिलेश यादव से रहा नहीं गया और उन्होंने यह कहकर तंज कसा कि उनके चाचा की बहुत चिंता की जा रही है। इस दौरान खूब ठहाके लगे।

शिवपाल की तारीफ में क्या बोले सीएम योगी

सीएम योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश यादव से नाराज चल रहे शिवपाल यादव की सदन में दो बार तारीफ की और दूसरों के सामने उन्हें मिसाल के तौर पर पेश किया। मुख्यमंत्री ने यूपी में टैबलेट वितरण का जिक्र करते हुए कहा, ”हम बच्चों को टैबलेट और स्मारर्टफोन दे रहे हैं। मैं सभी पक्षों के सभी सदस्यों को कहूंगा, मैं धन्यवाद दूंगा शिवापल यादव को उन्होंने भी अपनी विधानसभा सीट पर युवाओं में टैबलेट का वितरण किया।

अन्य सदस्य भी करें। सभी जगह गए हैं, पहल करना पड़ेगा। एक करोड़ युवाओं को वितरण किया जा रहा है।” इस दौरान पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने पलटकर चाचा शिवपाल की ओर देखा और मुस्कुराते हुए नजर आए।

समाजवाद पर भी शिवपाल की सराहना

समाजवादी पार्टी पर कटाक्ष करते हुए भी योगी आदित्यनाथ ने शिवपाल यादव के समाजवाद से जुड़ाव का जिक्र किया। उन्होंने कहा, ”आपकी कार्यपद्धति आपको पहचान दिलाती है। नाम जोड़ने से पहचान नहीं होती। समाजवाद को आप लोगों ने मृगतृष्णा बना दिया।

जब समाजवाद की बात होती थी तो डॉक्टर लोहिया की चर्चा होती थी, जय प्रकाश जी की चर्चा होती थी, संघर्षशील नेताओं की चर्चा होती है, आज समाजवादी पार्टी में डॉक्टर लोहिया पर लेखनी कभी कभी सिर्फ शिवपाल जी की देखता हूं। उनका आर्टिकल देखने को मिलता है। आपको सही मायने में लोहिया जी को पढ़ना चाहिए।

” अब तक तो मेरे चाचा थे: अखिलेश

जब जब सीएम योगी ने शिवपाल यादव का जिक्र किया, अखिलेश यादव हंसते हुए नजर आए। मुख्यमंत्री का भाषण खत्म होने के बाद अखिलेश यादव स्पष्टीकरण मांगने के लिए खड़े हुए तो उन्होंने कहा, ”नेता सदन ने बहुत लंबा भाषण दिया। बहुत सारी बातें उसमें आ गईं। इसके दौरान नेता सदन ने हमारे चाचा की बहुत चिंता की। अभी तक तो मेरे चाचा था, लेकिन अब तो नेता सदन भी उन्हें चाचा कह रहे हैं।”

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker