Friday, January 21, 2022
HomePoliticsभीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर ने अखिलेश यादव को दलित विरोधी बता दिया...

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर ने अखिलेश यादव को दलित विरोधी बता दिया बड़ा झटका, सपा से गठबंधन से इनकार

लखनऊ। भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर रावण ने उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन पर आज विराम लगा दिया। चंद्रशेखर रावण ने कहा कि सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव से कल मुलाकात हुई। आरक्षण समेत सभी मुद्दों पर बात हुई। अखिलेश यादव गठबंधन में शायद नहीं चाहते। अखिलेश ने शाम तक बताने को कहा था लेकिन कुछ नहीं बताया। अखिलेश यादव ने मुझे और बहुजन समाज को अपमानित किया।

चंद्रशेखर रावण ने अखिलेश यादव को दलित विरोधी बताया। हम समाजवादी के साथ गठबंधन में नहीं जा रहे हैं। हम जेल गये, मेरी लड़ाई विधायक बनने की नहीं है, मुझे सामाजिक न्याय चाहिए। पिछले 5 साल में समाजवादी पार्टी ने दलित की हत्या और उनके शोषण पर आवाज नहीं उठाई। चंद्रशेखर रावण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सपा पर हमला बोलते कहा कि हमारा उद्देश्य बीजेपी को रोकना है। चंद्रशेखर रावण ने बहन जी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं दी।

आपको बता दें कि समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव से शुक्रवार को आजाद समाज पार्टी के अध्यक्ष चंद्रशेखर ने मुलाकात की। उनकी यह मुलाकात सपा मुख्यालय पर करीब 50 मिनटों तक चली। इसके बाद चंद्रशेखर आजाद ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिखा कि एकता में बड़ा दम है।

मजबूती और एकता के बगैर भाजपा जैसी मायावी पार्टी को हराना आसान नहीं है। गठबंधन के अगुवा का दायित्व होता है कि वे सभी समाज के लोगों के प्रतिनिधित्व और सम्मान का ख्याल रखे। अखिलेश यादव से दलित वर्ग इस जिम्मेदारी को निभाने की अपेक्षा रखता है। अखिलेश से उनकी मुलाकात जनेश्वर मिश्र ट्रस्ट में हुई। इसके बाद ही उन्होंने ये बातें लिखी हैं।

इन दलों के साथ सपा का गठबंधन
आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के इस विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी का गठबंधन राष्ट्रीय लोक दल, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी, अपना दल (कमेरादेवी) और महान दल के साथ हुआ है। वहीं, अखिलेश यादव और चंद्रशेखर आजाद की पार्टी भीम आर्मी से भी बातचीत चल रही थी, जहां सपा को निराशा हाथ लगी है।

- Download Hind Morcha News App -hind-morcha-news-app
hind morcha news app

Most Popular