Friday, January 21, 2022
HomePoliticsअब स्टूल वाले मंत्री जी का क्या होगा... केशव प्रसाद मौर्य पर...

अब स्टूल वाले मंत्री जी का क्या होगा… केशव प्रसाद मौर्य पर अखिलेश यादव ने कसा तंज

लखनऊ : भाजपा छोड़ने के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य, धर्म सिंह सैनी, भगवती सागर, विनय शाक्य, रोशन लाल वर्मा, मुकेश वर्मा और बृजेश कुमार प्रजापति शुक्रवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए। इस दौरान अखिलेश ने बीजेपी नेता और यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि अभी तक तो किसी को स्टूल मिलता था। मुझे तो पता नहीं कि अब स्टूल वाले का क्या होगा।

दरअसल, कुछ दिनों पहले बीजेपी के एक कार्यक्रम की तस्वीर वायरल हुई थी। तस्वीर में सीएम योगी आदित्यनाथ और डॉ. दिनेश शर्मा के बीच में केशव प्रसाद मौर्य स्टूल पर बैठे नजर आ रहे थे। इसे लेकर यूजर्स ने मीम्स शेयर किए थे। अब अखिलेश ने इसी तस्वीर को लेकर केशव प्रसाद मौर्य पर तंज कसा है।

अखिलेश ने कहा, “जैसा कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि वो जिस तरफ चल देते हैं, उन्हीं की सरकार बनती है। इस बार वो अकेले नहीं, बल्कि बड़ी संख्या में लोगों के साथ सपा में आए हैं। ये जो 80 और 20 की बात कर रहे हैं। 80 फीसदी लोग तो सपा के साथ खड़े ही हो गए थे। अब तो 20 फीसदी भी उनके खिलाफ हो गए हैं। अब भाजपा का सफाया होना तय है।

“‘योगी की 11 मार्च की टिकट बुक है’

लखनऊ में सपा अध्यक्ष ने कहा, “मुझे लगता है कि सरकार के लोगों को पहले ही पता लग गया था कि स्वामी प्रसाद मौर्य और धर्म सिंह सैनी के साथ बड़ी संख्या में लोग आ रहे होंगे, इसलिए हमारे मुख्यमंत्री पहले ही गोरखपुर चले गए। हालांकि उनकी 11 मार्च की किसी ने टिकट बुक कर रखी है।”

‘किसानों की आय दोगुनी करने के वादे का क्या हुआ’

अखिलेश ने किसानों के मुद्दे को लेकर भी बीजेपी सरकार पर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि भाजपा ने किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया था। यह वादा कभी पूरा नहीं हुआ। महंगाई लगातार बढ़ती चली गई। भाजपा ने पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ा दिए। भाजपा गरीबों के जेब काटकर अमीरों की झोली भर रही है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, “सपा गठबंधन 400 सीटें जीत सकती है, क्योंकि जनता बदलाव चाहती है। जो जवान रोजगार मांगने आए, उन्हें लाठियां मारी गईं। हम लोग चुनाव का ही इंतजार कर रहे थे। अब साइकिल की रफ्तार को कोई रोक नहीं सकता है।”

‘यह सेमीफाइनल नहीं, फाइनल चुनाव है’

अखिलेश ने कहा कि लोग कहते हैं कि यह सेमीफाइनल है, लेकिन यह फाइनल चुनाव है। कितने भी दिल्ली वाले आएं, लेकिन ये पास होने वाले नहीं हैं। भाजपा वाले तो हमारी स्ट्रेटजी ही नहीं समझ पाए। अब हर कोई सपा के साथ है। उन्होंने कहा कि वो वर्चुअल और डिजिटल चलेंगे तो हम फिजिकल भी चलेंगे। हमारे कार्यकर्ता घर-घर जाएंगे। हम चुनाव आयोग की गाइडलाइन का पालन करेंगे।

- Download Hind Morcha News App -hind-morcha-news-app
hind morcha news app

Most Popular