Maharajganj

तस्करी पर लगाम लगाने में असमर्थ सुरक्षा एजेंसियां, तस्कर हुए बेखौफ.

  • तस्करी पर लगाम लगाने में असमर्थ सुरक्षा एजेंसियां, तस्कर हुए बेखौफ.

भोर में पिकअप व टैम्पों से निकलती है चावल.

हिन्दमोर्चा न्यूज़ महराजगंज/
कोल्हुई।

आपको बता दें कि
कोल्हुई थाना क्षेत्र में तस्करी लगातार तेज हो रही है। अब सवाल यह उठता है कि आखिर किसके शह पर बेखौफ चावल की तस्करी चल रही है सुरक्षा एजेंसियां सवालों के घेरे में है। आखिरकार क्यों महकमा रोकने में विफल है। चावल, खाद व अन्य समान की तस्करी कोल्हूई पुलिस के लिए चुनौती बनी हुई है। तस्करी पर आखिर लगाम कब लगेगी यह ज्वलंत सवाल बना हुआ है। रोक लगाने में महकमा विफल नजर आ रहा है। आखिर लगातर हो रही तस्करी पर क्यों लगाम लगाने में असफल है विभाग। क्या तस्करी के गोरखधंधे में स्थानीय प्रशासन का मिलीभगत शामिल हैं? गौरतलब हो पूर्व में भी कोल्हुई थाना क्षेत्र में कनाडियन मटर, पाकिस्तानी छोहाडा काली मिर्च आदि सामानों की तस्करी लगातार होती आ रही है। कोल्हुई पुलिस अपने करतूतों के वजह से काफी सुर्खियां बटोर चुकी है और एक बार फिर तस्करी पर रोकथाम ना लगाने पर पुलिस कटघरे में खड़े होते नजर आ रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्रतिदिन लाखों रुपयें की साम्रगी की तस्करी कोल्हूई से खैराघाट, जोगियाबारी, तथा बुढ़वा घाट से पुलिस के रहमोकरम से होता है जिससे तस्कर देश के राजस्व को करोड़ों का चूना लगा रहे हैं। अब दिलचस्प यह रहेगा कि आखिर जिला प्रशासन तस्करों पर नकेल कसती है या नही।

नायब तहसीलदार से भिड़ गए तस्‍कर:

आपको बतातें चले कुछ महीने पहले थाना क्षेत्र के बाटईडीहा गांव में मंगलवार की रात करीब 9 बजकर 40 म‍िनट पर चावल तस्करी की सूचना पर पहुंचे नौतनवां के नायब तहसीलदार सौरभ श्रीवास्तव को तस्करों ने घेर लिया। इस दौरान दोनों पक्षों में झड़प भी हुई। स्थानीय पुलिस को आता देख तस्कर चावल छोड़ नेपाल की तरफ फरार हो गए। पुलिस पिकअप पर लदे लगभग 10 क्विंटल चावल को थानें लाई है। पिकअप को सीज कर चावल को कस्टम को सौंप दिया गया है।

कुछ दिन सन्नाटा फिर तस्करी में आ गयी गति:

कोल्हुई थाना क्षेत्र में आये दिन तस्करी जोरों पर है। इन दिनों चावल की तस्करी सहित अन्य समाग्री तेज हो गयी है।

हिन्दमोर्चा टीम महराजगंज.

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker