Lucknow

UP में कम बारिश ने बढ़ाई सरकार की टेंशन, CM योगी ने आज लखनऊ में बुलाई बैठक

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में उम्मीद से कम बारिश होने से योगी सरकार को अब सूखे की चिंता सताने लगी है. सूखे की आहट को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार शाम को लखनऊ समीक्षा के लिए एक बड़ी बैठक बुलाई है. इस बैठक में मुख्य सचिव, राहत आयुक्त, कृषि उत्पादन आयुक्त समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल होंगे. जानकारी के मुताबिक, योगी आज शाम 6.30 बजे मुख्यमंत्री आवास पर बैठक लेंंगे. यूपी में धान और अन्य खरीफ फसल की खेती का कुल क्षेत्रफल 95 से 96 लाख हेक्टेयर है. इसके विरुद्ध कृषि विभाग द्वारा लगभग 6 लाख हेक्टेयर की गिरावट दर्ज की गई है. कुल में से 60 लाख हेक्टेयर अकेले धान की खेती का समर्थन करता है.

विभाग के अनुसार, राज्य में इस साल केवल 70 मिमी बारिश हुई है, जो पिछले साल की इसी अवधि के दौरान हुई बारिश की तुलना में लगभग 62% कम है, जब औसत 184 मिमी बारिश दर्ज की गई थी. इससे पहले यूपी के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि राज्य सरकार किसी भी स्थिति में किसानों की मदद करने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी. शाही ने कहा कि उनके विभाग ने जल शक्ति विभाग के साथ तुरंत समन्वय किया है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कृषि क्षेत्रों की सिंचाई के लिए सरकारी नलकूप और नहरों को अपेक्षित विनिर्देशों के अनुसार तैयार किया गया है ताकि किसानों को कोई समस्या न हो.

बता दें कि खरीफ की फसलों में मुख्य फसल धान की रोपाई पिछड़ रही है. ज्वार, बाजरा, तिल, अरहर, उड़द आदि की बोवाई भी प्रभावित हो रही है. मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि फिलहाल अगले एक हफ्ते और उत्तर प्रदेश में मॉनसून के मेहरबान होने के आसार नहीं हैं. हालांकि, पश्चिमी यूपी में छिटपुट बारिश हो सकती है. उन्होंने बताया कि मॉनसून में बन रहे बादल उत्तरी क्षेत्र को छोड़कर निचले वायुमंडल से दक्षिण की तरफ जा रहे हैं.

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker