Lucknow

Lucknow : इंसाफ के लिए थाने का चक्कर लगा रही युवती, रिश्तेदारों ने घर में घुसकर की थी पिटाई

लखनऊ : घर में घुसकर रियल एस्टेट में कार्यरत युवती की पिटाई करने वाले खुलेआम घूम रहे हैं, लेकिन गोमती नगर पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है। वीडियो वायरल होने के बाद भी पांच नामजद आरोपितों को पुलिस पकड़ने की बजाय पीड़िता को ही घुमा टहला रही है। युवती का आरोप है कि मजिस्ट्रेट के पास बयान दर्ज कराने के नाम पर पिछले एक सप्ताह से पुलिस टरकाने का काम कर रही है। पीड़िता को अब तक इंसाफ नहीं मिल सका है। युवती पिछले आठ दिनों से थाने व चौकी के चक्कर काट रही है।

गोमती नगर के विपुल खंड में दीपशिखा श्रीवास्तव माता-पिता के साथ रहती हैं। पिछले एक साल से जमीन को लेकर उनके परिवार का अपने रिश्तेदारों से विवाद चल रहा है। 11 अगस्त की देरशाम रिश्तेदारों ने घर में घुसकर पहले युवती की लोहे की राड से पिटाई की, उसके बाद घर से बाहर निकालकर कार के बोनट पर सिर पटकने की कोशिश की। ये सारा वाक्या घर के बाहर लगे सीसी कैमरे में कैद हुआ है। पिटाई करने के बाद आरोपितों ने लोहे की राड से कैमरा भी तोड़ दिया। युवती का कहना है कि इस दौरान वह घर में अकेली थीं।

पुलिस को सूचना देने के बाद पीड़िता का मेडिकल कराया गया, जिसके बाद पीड़िता युवती के बयान पर मौसी माया, बेटे मनीष, आशीष, अंकिता व संजू श्रीवास्तव के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। अब पीड़िता का कहना है कि दस दिन बीतने को हैं लेकिन उनको अब तक इंसाफ नहीं मिल सका है। पुलिस किसी न किसी बहाने से बात को घुमाने में लगी हुई है। पीड़िता का कहना है कि गुरुवार को विपुल खंड चौकी पर जब वह दोबारा मामले को लेकर बातचीत करने पहुंची तो चौकी प्रभारी ने हाई स्कूल का प्रमाण-पत्र मंगवाया। अब समझ में नहीं आ रहा है कि मेरी पढ़ाई लिखाई व डिग्री से क्या लेना-देना है। ऐसा लगा रहा है कि पुलिस आरोपितों को बचाने में लगी हुई है।

बयान के नाम पर दी जा रही तारीखः युवती का आरोप है कि आरोपित पक्ष में वैष्णवी व एक अन्य के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा नहीं लिखा है। मारपीट के दौरान ये दोनों भी शामिल थे। पुुलिस ने मजिस्ट्रेट के सामने बयान दर्ज होने के बाद कार्यवाही करने की बात कही थी। पुलिस ने पहले 17 फिर 18, उसके बाद 20 और अब 22 अगस्त को मजिस्ट्रेट के सामने बयान होने की बात कही है।

विपुल खंड में जमीन को लेकर चल रहा विवादः पीड़िता के मुताबिक विपुलखंड में 1200 स्क्वायर फीट की जमीन है, जो आधी हमारे और आधी मेरी मौसी के नाम पर होनी है। आरोपित ताहते हैं कि सारी जमीन उनके नाम कर दी जाए। इस वजह से सारा बवाल चल रहा है। पहले भी आरोपितों ने मुझे कई बार जान से मारने की धमकी दी थी। इसकी शिकायत पुलिस से की गई थी। उस दौरान भी कोई कदम नहीं उठाए गए थे।

इस पूरे मामले को संज्ञान में लेकर आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वीडियो में मारपीट कर रहे लोगों की पहचान की जा रही है। दोषी पाए जाने पर सभी के खिलाफ सख्त कदम उठाए जाएंगे।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker