Lucknow

उरे लखनऊ मंडल में वर्दीधारी पुलिस कर्मियों का खुलेआम गुंड्ई, टीटीई को पीटा और बंद करने की दी धमकी, रेलवे के अधिकारी निष्क्रिय

( ओपी सिंह वैस )

लखनऊ / योगी जी की सरकार में तरह -तरह से नियम कानून का पालन करने के लिए मुख्य मंत्री जी भले निर्देश दे रहे हैं लेकिन योगी जी की पुलिस है कि सुधरने का नाम नहीं ले रही है देखिए डीजीपी पुलिस एवं मुख्य मंत्री जी जब एक सरकारी रेल सेवक के साथ इस कदर गुंडई हो रही है तो फिर आम जनता के साथ ये सब कैसे पेश आते होंगे भगवान ही जाने।

मिली जानकारी के अनुसार गत मंगलवार को गोरखधाम सुपरफास्ट एक्सप्रेस 2555 जो गोरखपुर से भटिंडा के लिए रवाना हुई उक्त आरक्षित डिब्बे में
उप्रपु के दो जवान जिनका नाम रक्षित व अंकित बताया जाता बिना टिकट यात्रा कर रहे थे जब हेड टीटीई रामबदल जो लखनऊ मुख्यालय पर तैनात हैं टिकट मांगा तो ये दोंनों सिपाहियों ने मां बहन एवं जाति सूचक गालियां देते हुए जमकर पीटा जिससे उक्त टीटीई को काफी चोटें आई।

यह मामला उस समय हुआ जब उक्त ट्रेन कानपुर प्लेट फार्म N0-7 पर पहुंची मारपीट के दौरान ट्रेन में यात्रियों ने बताया कि अगर हम लोग चैनपुलिंग न करते तो ये दोंनों सिपाही उक्त टीटीई को ट्रेन से बाहर फेंकने का भी प्रयास किया था।

इस संबंध में कानपुर जी आरपी प्रभारी ने बताया कि टीटीई और सिपाहियों के बीच मारपीट हुई है और मेडिकल कराया जा रहा है। एक सूत्र ने फोन पर बताया कि मामले को रफा दफा करने का प्रयास किया जा रहा है।

यह पहली घटना नहीं है इसके पहले भी क्ई घटनाएं हो चुकी है लेकिन तब भी रेल प्रशासन नहीं चेता है। इस संबंध चेकिंग स्टाफ ने फोन पर बताया कि हम लोग मात्र दो से तीन टीटीई पूरी ट्रेन को चेक करते हैं लेकिन रेल प्रशासन कोई सुरक्षा नहीं देता उल्टे रेलवे की विजिलेंस और वरिष्ठ अधिकारी हम लोंगों का ही उत्पीड़न करते हैं।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker