Local

सपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क का विवादित बयान, बोले- लड़कियों को कंट्रोल में रखने के लिए हिजाब जरूरी

संभल. अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले संभल से सपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क (Shafiqur Rahman Burke) ने एक बार फिर से जहर उगला है. दिल्ली में मीडिया से बातचीत करते हुए सपा सांसद ने लड़कियों के लिए हिजाब को वाजिब ठहराया है. उन्होंने कहा कि जब बच्चियां बड़ी होने लगती हैं तो उन्हें कंट्रोल में करने के लिए हिजाब जरूरी है. इसके साथ उन्होंने कहा कि हिजाब पहनने से बच्चियां काबू में रहती हैं. सपा सांसद ने कहा कि हमारी संस्‍कृति पर यूरोपियन संस्‍कृति भारी पड़ती जा रही है, लेकिन हमारे धर्म में इतना खुलापन हराम है. हालांकि उन्होंने लड़कों को क्या पहनना चाहिए इस पर कुछ नहीं कहा है.

सपा सांसद सपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क यही नहीं रुके बल्कि अजान और अखंड रामायण की तुलना कर दी. उन्‍होंने अजान विवाद पर कहा कि अजान 3-4 मिनट में खत्म हो जाता है, इससे किसी का क्या बिगड़ रहा है. जबकि अखंड रामायण 24 घंटे चलती है. उससे किसी को कोई दिक्कत नहीं है.

इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि अजान को लेकर विवाद खड़ा करना देश में नफरत फैलाने की साजिश है. अगर अजान से प्रदूषण फैल रहा है तो अखंड पाठ पर कोई कुछ नहीं बोलता है.

बाबर अली की हत्‍या को बताया था सही

गौरतलब है कि इससे पहले कुशीनगर में बाबर की हत्या को भी शफीकुर्रहमान ने सही ठहराया था. भाजपा समर्थक बाबर की हत्या के बाद उन्होंने कहा था कि वह जो कर रहा था वो गलत था. उन्होंने कहा था कि बाबर ने भाजपा के जीत का जश्न मनाकर गलत किया था.

यही नहीं, समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने लड़कियों की शादी की उम्र लड़कों के बराबर यानी 21 साल करने पर भी विवादित बयान दिया था. इस प्रस्ताव पर कैबिनेट की मंजूरी के बाद उन्‍होंने कहा था कि लड़कियों की शादी की उम्र सीमा बढ़ाने से वे और ज्यादा आवारगी करेंगी.

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker