Local

शासन प्रशासन की उपेक्षा के चलते गावों में घुमते टेंगिग लगे पशु, किसानों की कर रहे फसल चौपट

सिंगाही खीरी। विकासखंड निघासन में शासन प्रशासन की उपेक्षा के चलते आवारा पशुओं की संख्या दिन पर दिन बढ़ रही है टेगिंग लगे गौवंशी पशु किसानों की फसलों को चौपट कर रहे हैं क्षेत्रीय प्रशासन सब कुछ जान कर अंजान बना हुआ है।दिन पर दिन बड़ रही इस विकराल समस्या के लिए जन प्रतिनिधि भी समाधान नही खोज रहे है।

विकास खंड निघासन में आवारा पशुओं की संख्या दिन पर दिन बढ़ रही है जिससे सड़क गांव खेत पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है सड़क पर राहगीरों का सडक पर चलना मुश्किल है आए दिन आवारा पशु इस सड़क दुर्घटना का अक्सर कारण बनते हैं गांव में सड़कों पर आवारा पशुओं का जमावड़ा लगा रहता है खेतों पर किसानों की हरी-भरी फसल को गौवौशी पशु चौपट कर रहे है।

समस्या दिन पर दिन विकराल होती जा रही है क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि एवं प्रशासन भी इस समस्या का समाधान ढूंढने में नाकाम है आवारा पशुओं का आतंक इलाके में दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है अभी हाल में ही प्रमुख सचिव ने क्षेत्रीय प्रशासन को आदेश दिया था कि आवारा पशुओं की समस्या के समाधान के लिए प्रशासन ठोस कदम उठाए लेकिन प्रशासन अपनी नाकामी छुपने के लिए तरह-तरह के बहाने ढूंढ लेता है ग्राम सिंगहां कलां नौरंगाबाद बथुआ मोतीपुर सहित समुचे विकास क्षेत्र में यह गो वंशी पशुओं की समस्या धीरे-धीरे विकराल होती जा रही है.

किसान दिन रात एक करें अपनी फसल बचाते हैं लेकिन जरा सी चूक होने पर उनकी फसल को यह गोवंश पशु चौपट कर जाते हैं जिसके उनके मन में आक्रोश पनप रहा है और क्षेत्र अभी विधान सभा के चुनाव में भी जनप्रतिनिधियों को भी इस समस्या का खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। खण्ड विकास अधिकारी भी इस समस्या को लेकर समाधान के लिए कोई ठीक-ठाक उत्तर नहीं दे पाए

ग्रामीणों ने दुध खाने के बाद गौवंशीय पशुओं को छोड़ दिया है जिससे यह समस्या है अभी ग्राम प्रधानों से बात करुगा शीघ्र ही समाधान किया जियेगा।

राकेश सिंह खंड विकास अधिकारी निघासन खीरी

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker