Monday, May 16, 2022
HomeLocalभीषण गर्मी से राहत की उम्मीद, IMD का अनुमान- इन राज्यों में...

भीषण गर्मी से राहत की उम्मीद, IMD का अनुमान- इन राज्यों में 2 मई से होगी बारिश, जानें आपके इलाके का हाल

नई दिल्ली: भीषण गर्मी से जूझ रहे देश के कुछ राज्यों के लोगों के लिए राहत की खबर आई है. भारतीय मौसम विभाग (IMD Predictions) ने शुक्रवार को राजस्थान, दिल्ली, पंजाब और हरियाणा में 2 मई से बारिश और गरज के साथ बूंदाबांदी होने का अनुमान जताया है. ऐसे में उम्मीद है कि बारिश के बाद गर्मी से कुछ राहत मिलेगी.

हिंदुस्तान टाइम्स में छपी रिपोर्ट के अनुसार, 2 से 4 मई तक राजस्थान, दिल्ली, पंजाब और हरियाणा में बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है. आईएमडी के वरिष्ठ वैज्ञानिक आर के जेनामणि ने कहा कि इससे तापमान 36 और 39 डिग्री सेल्सियस तक नीचे आने की संभावना है.

- Advertisement -

मौसम विभाग की मानें तो, 4 मई को अंडमान सागर में एक चक्रवात विकसित होगा जिसके बाद 5 मई को निम्न दबाव का क्षेत्र बनेगा और इसके प्रभाव से तापमान में गिरावट होने की संभावना है. अधिकारी ने बताया कि पूर्वी भारत के ओडिशा, बिहार, पश्चिम बंगाल और झारखंड जैसे राज्यों में तापमान पहले ही गिर चुका है.

इन राज्यों में गिरने लगा तापमान भारतीय मौसम विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक आर के जेनामणि ने कहा कि, ओडिशा, बिहार, बंगाल और झारखंड में आज से तापमान गिरावट देखने को मिल रही है. झारसुगुडा, संबलपुर, बलांगीर और अंगुल (ओडिशा में) जैसे क्षेत्रों में गुरुवार को टेंपरेचर 44 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया और शनिवार से यहां तापमान गिरना शुरू हो जाएगा.
- Advertisement -

इससे पहले मौसम विभाग ने देश के 7 राज्यों गर्मी को लेकर येलो अलर्ट जारी किया था. इनमें पश्चिमी राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिमी यूपी, एमपी और झारखंड शामिल हैं, जहां 29 अप्रैल से 1 मई के बीच गर्मी बढ़ने का अनुमान है.

वहीं आईएमडी ने अगले 4 दिनों तक उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में और अगले दो दिनों के दौरान पूर्वी भारत में लू चलेगी. पश्चिमी राजस्थान के अलग-अलग हिस्सों में 1-2 मई को भीषण लू की स्थिति रहेगी. विदर्भ, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, पंजाब, हरियाणा-चंडीगढ़, दिल्ली और पूर्वी राजस्थान, बिहार, झारखंड, आंतरिक ओडिशा, छत्तीसगढ़ और गंगीय पश्चिम बंगाल में लू के हालात बने हुए हैं और आने वाले 3 दिनों तक राहत मिलने की संभावना नहीं है.

hind morcha news app

Most Popular