Local

पूस के महीने में पत्‍नी और प्रेमिका के बीच फंसे गुरुजी, पढ़ें अजब प्रेम की गजब दास्‍तान

बेगूसराय. बिहार के बेगूसराय में एक अजब प्रेम कहानी की गजब दास्‍तान सामने आई है. जिले के मंझौल में पदस्‍थ एक गुरुजी को एक युवती से प्रेम हो गया. वह इस लड़की के प्रेम में इस कदर डूब गए कि पत्‍नी से ही दूर होते चले गए. अब इस गुरुजी की पत्‍नी ने DEO से मिलकर उनके वेतन पर हक जताया है.

गुरुजी की पत्‍नी ने जिला शिक्षा अधिकारी से मिलकर दूसरी युवती के प्रेम में दिवाने हुए पति की सैलरी में हिस्‍सा मांगा है. साथ ही महि‍ला इसकी शिकायत महिला पुलिस थाने और महिला हेल्‍पलाइन पर भी की है. फिलहाल गुरुजी कड़ाके की ठंड के मौसम में पत्‍नी और प्रेमिका के बीच कुछ इस कदर उलझे हैं कि उनका सुख-चैन छिन गया है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, दूसरी युवती से प्रेम के कारण पत्‍नी की नाराजगी झेल रहे गुरुजी बतौर टीचर ज्‍वाइन करने से पहले अपने बड़े भाई के साथ पश्चिम बंगाल में रहते थे. वह वहां काम-धंधे में मशगूल हो गए थे. इस बीच, उन्‍हें वहीं एक युवती से प्‍यार हो गया और दोनों ने 15 दिसंबर 1999 में शादी कर ली थी.

दोनों लंबे समय तक साथ रहे और उन दोनों को 2 बेटे व एक बेटी भी है. इस दौरान शख्‍स की बिहार में शिक्षक की नौकरी मिल गई और वह बिहार आ गए. फिलहाल उनकी तैनाती बेगूसराय जिले के मंझौल में है. इस तरह वह अपनी पत्‍नी से दूर रहने लगे थे.जीवनयापन भत्‍ता की मांग
यह पूरा मामला डंडारी थाना क्षेत्र के कटरमाला निवासी एक शख्‍स और उनकी पत्‍नी से जुड़ा है.

दूसरी युवती के प्रेम में द‍िवाने गुरुजी की पत्‍नी ने डीईओ को आवेदन देकर जीवनयापन के लिए पति के वेतन से गुजारा भत्‍ता देने की गुहार लगाई है. मास्‍टर साहब की पत्‍नी का कहना है कि उनके पति घर छोड़ कर किसी दूसरी महिला के साथ रहते हैं. उन्‍होंने आवेदन में कहा कि उनके पति 3 महीने से घर तक नहीं आए हैं.

उनको खाने-पीने तक के लिए पैसा नहीं दिया गया है. उनके बच्‍चे भी बड़े हो गए हैं. पीड़िता का कहना है कि उनका मायका काफी दूर पश्चिम बंगाल में है, ऐसे में उन्‍हें गुजारा चलाने के लिए पैसों की सख्‍त जरूरत है. उनका कहना है कि उनके पति फोन का भी जवाब नहीं देते हैं.

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker