Local

पत्नी मंजू शर्मा को कुछ इस अंदाज में Kumar Vishwas ने कहा- Happy Birthday, पढ़कर हंसी नहीं रोक पाएंगे आप

नई दिल्ली। देश के जाने-माने कवियों में शुमार कुमार विश्वास ने यूं तो सैकड़ों कविताएं लिखी हैं और कई कविता संग्रह बाजार में आ चुके हैं, लेकिन वह आज भी अपनी कविता ‘कोई दीवाना कहता है, कोई पागल समझता है’ के लिए देश-दुनिया में चर्चित हैं। कवि सम्मेलनों में कुमार विश्वास से इस कविता का पाठ करने की मांग जरूर उनके प्रशंसक करते हैं और कवि कभी भी अपने चाहने वालों को निराश नहीं करते हैं। जब भी उनसे गुजारिश की जाती है वह अपनी कविता ‘कोई दीवाना कहता है, कोई पागल समझता है’ जरूर पढ़ते हैं।

खैर कुमार विश्वास का एक अंदाज और भी है कि वह अपनी जिंदगी के हसीन लम्हों को भी अपनी शानदार और खूबसूरत कविताओं के जरिये यादगार बना देते हैं। ताजा मामला है कुमार विश्वास की पत्नी मंजू शर्मा के जन्मदिन का। दरअसल, कुमार विश्ववास की पत्नी मंजू शर्मा का 17 मई को जन्मदिन होता है। अपनी पत्नी को इंटरनेट मीडिया पर कविता की चंद पंक्तियों के जरिये बधाई है। इसके अनुसार उनकी पत्नी मंजू शर्मा कार चलानी नहीं आती है।

कुमार विश्वास ने पत्नी मंजू शर्मा को अपनी कविता की चार शानदार और गुदगुदाने वाली पंक्तियों के जरिये बधाई दी है। इसमें उन्होंने पंक्तियों की अंत में कहा है- Happy Birthday Love। दरअसल, कुमार विश्वास ने मंगलवार (17 मई) को अपने इंटरनेट मीडिया अकाउंट पर यह कविता शेयर कर इसे अपनी पत्नी मंजू शर्मा को डेडिकेट किया है।

गौरतलब है कि गाजियाबाद के वसु्ंधरा इलाके में रहने वाले कुमार विश्वास ने मंजू शर्मा ने प्रेम विवाह किया है। मंजू शर्मा मूल रूप से राजस्थान के अजमेर जिले की रहने वाली हैं। राजस्थान यूनिवर्सिटी से पीएचडी करने वालीं मंजू शर्मा फिलहाल अलवर कालेज में प्रोफेसर थीं।

कुमार विश्वास अकसर अपनी पत्नी मंजू शर्मा के बहाने राजस्थान से अपने आत्मीय रिश्ते का जिक्र करते रहते हैं। बताया जाता है कि अलवर कालेज में मंजू शर्मा से उनकी मुलाकात कुमार विश्वास से हुई थी। इसके बाद प्रेम विवाह किया।

कुमार विश्वास और मंजू शर्मा की प्रेम कहानी भी अजब है। कुमार विश्वास इंजीनियरिंग की पढ़ाई छोड़कर अलवर के उसी कॉलेज में लेक्चरर बन गए, जिसमें मंजू शर्मा पहले से लेक्चरर थीं। यह बात 1994 की है। यह वह दौर था जब कुमार विश्वास बहुत उम्दा प्रेम कविताएं लिखते थे। इस दौरान कुमार विश्वास ने मंजू के लिए भी प्रेम कविताएं लिखीं। धीरे-धीरे दोनों में प्यार परवान चढ़ा और काफी मुश्किलों के बाद शादी हुई।

दोस्तों ने साथ दिया तो पहले कोर्ट मैरिज की और फिर मंदिर में शादी की। इस शादी से शुरुआत में कुमार विश्वास के परिवार वाले खुश नहीं थे। जब दोनों की बड़ी बेटी के पैदा होने से पहले कुमार विश्वास और मंजू शर्मा को घर में प्रवेश की अनुमति मिली।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker