Tuesday, May 17, 2022
HomeLocalपति और ससुर के बीच बैठकर ब्लाक प्रमुख ने संपन्न करवाई ब्लॉक...

पति और ससुर के बीच बैठकर ब्लाक प्रमुख ने संपन्न करवाई ब्लॉक की बैठक.

हिन्दमोर्चा न्यूज़ महराजगंज.

  • सदर ब्लॉक के सभागार में संपन्न हुई बैठक, प्रस्ताव पर हुआ विचार.
  • B D O एवं C D P O के उपस्थित ना होने पर जनप्रतिनिधियों ने जताई नाराजगी.
  • पति एवं ससुर के बीच मुकदर्शक बनी रही महिला ब्लाक प्रमुख.
  • इन परिस्थितियों में महिला अधिकारों की कैसे होगी रक्षा.
  • क्या अधिकारी इन मसलों पर देंगे ध्यान?

महराजगंज, जनपद के ब्लॉक मुख्यालय पर क्षेत्र पंचायत सदस्य और ग्राम प्रधानों के साथ ब्लाक प्रमुख ने बैठक कर विकास योजनाओं पर परिचर्चा की. कार्यक्रम में चर्चा का विषय पति और ससुर के बीच बैठी महिला ब्लाक प्रमुख रही. प्रधानों द्वारा सबसे पहले प्रधान संघ के अध्यक्ष को बैठक में उचित स्थान न देने पर विरोध किया गया जिसे मानते हुए उन्हें उचित स्थान दिया गया. प्रधानों द्वारा आवास के मुद्दे को प्रमुखता से उठाते हुए यह कहा गया कि जियो टैगिंग की वजह से ब्लाक के ग्राम सभाओं में सरकार की महत्वकांक्षी योजना का लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा है.

- Advertisement -

- Advertisement -

जिस को संज्ञान में लेकर अधिकारी उचित कार्यवाही करें जिससे कि गरीबों को आवास योजना का लाभ मिल सके और प्रधान लोगों के कोप भाजन से बच सकें. प्रधानों द्वारा यह बताया गया कि गांव के लोगों को यह लगता है कि ग्राम प्रधान लोगों को इस सरकारी योजना का लाभ नहीं देना चाहते जबकि मामला कुछ और ही है. वहीं कुछ प्रधान द्वारा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के क्रियाकलाप पर भी प्रश्न उठाए गए और यह मांग की गई कि उनके द्वारा वितरण किए जा रहे सामानों का प्रधान द्वारा भौतिक सत्यापन करवाया जाए.

बैठक में खंड विकास अधिकारी एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी के उपस्थित न होने पर भी प्रतिनिधियों ने नाराजगी जताई. मनरेगा द्वारा आगामी वित्तीय वर्ष में करवाए जाने वाले कार्यों पर प्रस्ताव लाया गया जिसे बताते हुए एपीओ ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2022 से इसमें 5 लाख मानव दिवस का लक्ष्य प्राप्त हुआ हैजिसका मूल्य लगभग 10 करोड निर्धारित है.

एपीओ द्वारा आगे बताया गया कि प्रत्येक गांव में मनरेगा योजना अंतर्गत मेरा तालाब मेरी आजीविका अभियान का शुभारंभ किया जा रहा है, जिसमें मत्स्य पालन के लिए तालाब खुदवाए जाएंगे. अतः सभी ग्राम प्रधान इस योजना के लिए लोगों को जागरूक करें और इसकी जानकारी लोगों तक पहुंचाएं. जो लोग भी इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं उनका आवेदन बढ़-चढ़कर करवाया जाए. बैठक में ग्राम प्रधानों द्वारा ब्लॉक परिसर में अपने लिए बैठने की व्यवस्था की भी मांग की गई.

बैठक में एडीओ एजी द्वारा यह जानकारी दी जाएगी ब्लॉक क्षेत्र में पीएम किसान के लगभग 37 हजार लाभार्थी हैं जिसमें 20 हजार किसानों ने अपना ईकेवाईसी करवा लिया है. खाद बीज संबंधित विषयों पर भी जानकारी प्रधान और प्रतिनिधियों को दी गई.  बैठक में सर्वसम्मति से नवनिर्मित ब्लॉक सभागार के लिए 2500 का शुल्क निर्धारित किया गया जिससे कि ब्लॉक की आय बढ़ सके.

हिन्दमोर्चा टीम महराजगंज.

hind morcha news app

Most Popular