LocalPoliticsUttar Pradesh

टांडा से अल्पसंख्यक समुदाय के व्यक्ति को सपा से टिकट नही मिला तो चुकानी पड़ सकती है भारी कीमत…

टांडा(अम्बेडकरनगर). विधानसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दल चुनाव में अपने प्रत्याशियों की घोषणा करना शुरू कर दिये है यहां बहुजन समाज पार्टी से मनोज वर्मा जहां मैदान में हैं वही  कांग्रेस से मेराजुद्दीन किछौछवी   मैदान में हैं लेकिन भारतीय जनता पार्टी और समाजवादी पार्टी ने अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं इन दोनों प्रमुख राजनीतिक दलों द्वारा अभी तक अपने प्रत्याशियों की घोषणा नहीं की गई है.

पिछले विधानसभा चुनाव  में इन्ही दोनों पार्टियों के बीच जमकर मुकाबला हुआ था । वहीं सबसे विकट स्थिति समाजवादी पार्टी की हो गई है समाजवादी पार्टी पिछले कई चुनावों से टांडा विधानसभा से मुस्लिम को ही प्रत्याशी घोषित करती रही है   इस बार जनपद के सभी विधानसभाओं में प्रत्याशियों की घोषणा समाजवादी पार्टी ने कर दी है लेकिन टांडा विधानसभा में अभी तक इसकी घोषणा नहीं कर सकी है.

वही जो चर्चा चल रही है उससे ही अंदाजा लगाया जा रहा है कि टांडा विधानसभा से राममूर्ति वर्मा को टिकट लगभग पक्का हो चुका है जिससे लेकर के टांडा विधानसभा क्षेत्र के अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों में अंदर ही अंदर खासी नाराजगी देखी जा रही है  यहां पर अल्पसंख्यक समुदाय के लोग मुस्लिम समुदाय के व्यक्ति को चुनाव में उतरते हुए समाजवादी पार्टी से देखना चाहते हैं अगर सपा ने मुस्लिम समुदाय के अलावा किसी अन्य समुदाय को यहां प्रत्याशी घोषित किया तो समाजवादी पार्टी के लिए  अच्छा नहीं होगा उसकी नैया अधर में लटक सकती है.

टांडा विधानसभा क्षेत्र मुस्लिम बहुल क्षेत्र है जहां टांडा और किछौछा इस विधानसभा का अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों का प्रमुख गढ़ है ऐसे में अल्पसंख्यक समुदाय के लोग अपने ही समाज के किसी व्यक्ति को समाजवादी पार्टी से टिकट लेकर मैदान में उतरते हुए देखना चाहते हैं अगर किसी अन्य  को टिकट मिला तो समाजवादी पार्टी को अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के गुस्से का शिकार होना पड़ सकता है बहरहाल  ऊंट किस करवट बैठेगा यह तो आने वाले एक-दो दिन में सब कुछ सामने आ जाएगा.

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker