festival

Raksha Bandhan 2022: ‘बुलडोजर बाबा’ और मोदी- योगी राखी का चढ़ा क्रेज, युवाओं में बढ़ी डिमांड

प्रयागराज. भाई और बहन के अटूट प्रेम के त्यौहार रक्षाबंधन के मौके पर उनके भाईयों के हाथों की कलाई सूनी ना रहे इसके लिए बहनें राखियों की खरीदारी में जुटी हैं. कोरोना के चलते 2 साल बाद राखी के त्यौहार पर बाजारों में खासी रौनक भी दिखाई दे रही है. मार्केट में तरह-तरह की राखियां मौजूद हैं. लेकिन इस बार संगम नगरी में खासतौर पर मोदी-योगी और बुलडोजर राखी का क्रेज देखा जा रहा है. कोरोना की महामारी के चलते दो साल के बाद रक्षाबंधन के त्यौहार पर बाजारों में रौनक देखी जा रही है. तरह-तरह की राखियों से राखी के बाजार सजे हुए हैं. बहनें भी अपने भाइयों के लिए राखियों की खरीदारी कर रही हैं. लेकिन इस बार राखी के बाजार में सबसे ज्यादा डिमांड योगी- मोदी राखी और बुलडोजर राखी की है.

राखी खरीदने आ रही बहनों का कहना है कि मोदी- योगी सरकारमें जहां कई विकास कार्य हुए हैं. वहीं महिलाएं भी खुद को पहले से ज्यादा सुरक्षित महसूस कर रही हैं. इसके साथ ही कोरोना की वैश्विक महामारी के दौरान केंद्र की मोदी और प्रदेश की योगी सरकार ने कोविड वैक्सीनेशन कराया है. जिसके चलते आज हम लोग सुरक्षित हैं और रक्षाबंधन का त्यौहार खुशी खुशी मना पा रहे हैं. बहनों का कहना है कि यूपी में योगी सरकार माफियाओं पर बुलडोजर चला रही है. यही वजह है कि लोगों को बुलडोजर की राखियां भी खूब भा रही हैं. राखी खरीदने आई अमिता केसरवानी का कहना है कि यूपी में महिलाएं सुरक्षित महसूस कर रही हैं. तो वहीं रचना केसरवानी कहती हैं कि कोरोना काल में योगी और मोदी सरकार ने लोगों का जीवन बचाया है.

जबकि आकांक्षा पांडेय ने कहा कि माफियाओं के खिलाफ बुलडोजर की कार्रवाई से बुलडोजर राखी खरीदने आयी हैं. राखी बेचने वाले दुकानदार कादिर भाई का कहना है कि दो साल बाद राखी बाजार में अच्छा कारोबार हो रहा है. उनके मुताबिक मार्केट में ट्रेडिशनल राखियों से लेकर बच्चों के लिए कार्टून और क्रिकेट के खिलाड़ियों वाली राखियां मौजूद हैं. लेकिन इस बार खासतौर पर मार्केट में लांच की गई बुलडोजर राखी की सबसे ज्यादा डिमांड है. इसके साथ ही मोदी और योगी की राखी भी बहनों की पहली पसंद बनी हुई है.

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker