Tuesday, May 17, 2022
HomeCrimeUP : शादी से पहले लड़केवालों से जमकर कराई शॉपिंग और फिर...

UP : शादी से पहले लड़केवालों से जमकर कराई शॉपिंग और फिर फरार हो गई लुटेरी दुल्हन

Agra : शादी से दो दिन पहले दुल्हन परिवार सहित रफूचक्कर हो गई। दुल्हन और उसके कथित घरवालों ने ठगी के लिए जाल बिछाया था। खुद को गरीब बताया। शादी का खर्चा ले लिया। दुल्हन ने खरीदारी की। पसंद की साड़ियां, सूट लिए। कीमती लहंगा भी खरीदा। दूल्हे के परिजनों ने घटना की शिकायत जगदीशपुरा थाने में की है। दुल्हन के घरवालों ने अपना जो पता बताया था वह फर्जी निकला।

आवास विकास कालोनी सेक्टर एक निवासी युवक के साथ घटना हुई है। युवक की कार एक कैब कंपनी में लगी हुई है। एक बिचौलिया रिश्ता लेकर आया था। बताया कि लड़की वाले खेड़ा राठौर के निवासी हैं। शहर में सिकंदरा के राधानगर में किराये पर रहते हैं। लड़की पढ़ी लिखी है। परिवार गरीब है। शादी करने के लिए रुपये नहीं हैं। दोनों तरफ का खर्चा लड़के वालों को उठाना होगा। शादी हो जाएगी। बिचौलिया ने दो मार्च को लड़की दिखवाई। युवक के परिजनों को लड़की पसंद आ गई। एक मैरिज होम में गोद भराई की रस्म हुई।

16 अप्रैल की शादी तय हुई। कार्ड छप गए। घर पर रिश्तेदार आ गए। दुल्हन की दूल्हे से फोन पर बातचीत होती थी। शादी के खर्चे के लिए युवक के परिजनों ने 80 हजार रुपये दुल्हन के परिजनों को ऑनलाइन ट्रांसफर किए। 11 अप्रैल को लड़की का मोबाइल बंद हो गया। लड़के ने कई बार संपर्क का प्रयास किया। जब फोन नहीं लगा तो लड़के ने बिचौलिया को फोन मिलाया। उसने भी फोन नहीं उठाया। लड़के को लगा कि कोई बात तो नहीं हो गई।
- Advertisement -

वह राधा नगर पहुंचा। लड़कीवालों ने जो पता बताया था, वहां कोई नहीं मिला। यह देख दूल्हा पक्ष के होश उड़ गए। वे खेरा राठौर पहुंचे। वहां पता किया। ग्राम प्रधान से संपर्क किया। जानकारी हुई कि इस नाम का गांव में कोई नहीं रहता। इस जानकारी के बाद लड़के वालों को यकीन हो गया कि उनके साथ ठगी हुई है। वर पक्ष ने जगदीशपुरा थाने में तहरीर दी है।

एक बार भी नहीं दिखाया अपना घर

- Advertisement -

वर पक्ष ने पुलिस को बताया कि उन्हें शक है कि लड़की पक्ष के लोग इसी अंदाज में ठगी करते हैं। आगरा से बाहर के रहने वाले हैं। उन्हें भी एक बार अपना घर नहीं दिखाया। उन्हें लड़की पसंद थी। ज्यादातर फोन पर भी बातचीत हुई। सगाई और गोद भराई की रस्म मैरिज होम में हुई थी। लड़की वालों ने अपनी तरफ से किसी को नहीं बुलाया था। चंद लोग ही शामिल हुए थे। यह बोला था कि वे भीड़ नहीं बढ़ाना चाहते। आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है इसलिए घरवाले ही शादी में शामिल होंगे।

मध्यस्थ ने लड़के वालों से दिलाया था खर्च

आरोप है कि शादी तय कराने में उसने ही मध्यस्थ की भूमिका निभाई थी। उसने ही लड़की वालों को शादी के लिए खर्चा दिलाया था। इंस्पेक्टर जगदीशपुरा प्रवींद्र कुमार सिंह ने बताया कि जांच की जा रही है। साक्ष्यों के आधार पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

hind morcha news app

Most Popular