Sunday, May 15, 2022
HomeCrimeUP : थाने में किशोरी से दुष्कर्म केस में बड़ी कार्रवाई, पूरा...

UP : थाने में किशोरी से दुष्कर्म केस में बड़ी कार्रवाई, पूरा थाना लाइन हाजिर; एसएचओ की तलाश में टीमें गठित

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के ललितपुर में सामूहिक दुष्‍कर्म की शिकार किशोरी से थाने में दुष्कर्म मामले बड़ी कार्रवाई की गई है। आरोपित एसएचओ तिलकधारी सरोज को सस्‍पेंड करने के बाद अब पूरे थाने को लाइन हाजिर कर दिया गया है। आरोपितों को पकड़ने के लिए पुलिस टीमें लगातार छापेमारी कर रही हैं। एडीजी कानपुर जोन ने मामले की जांच डीआइजी झांसी को देकर 24 घंटे में र‍िपोर्ट मांगी है।

आरोप है कि पाली थाने के एसएचओ तिलकधारी सरोज ने किेशोरी को बयान दर्ज करने के लिए बुलाया था। इस दौरान उसने थाना परिसर में बने अपने कमरे में किशोरी से दुष्‍कर्म किया। इस घटना में महिला सहित तीन आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं। वहीं, सस्‍पेंड किए गए थानाध्‍यक्ष समेत तीन लोग फरार हैं।

डीआइजी झांसी जोगेंद्र सिंह ने भी पाली थाने पहुंचकर छानबीन की है। आरोपियों को पकड़ने के लिए तीन पुलिस टीमें लगी हैं। आरोपी एसएचओ की तलाश में प्रयागराज के गंगापार इलाके में देर रात दबिश दी गई। परिवार के लोगों से भी पूछताछ की जा रही है। इस बीच अखिलेश यादव के ललितपुर पहुंचने की सूचना पर यहां पुलिस सुरक्षा बढ़ा दी गई है।
- Advertisement -

एडीजी ला एंड आर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि एसएचओ सहित सहित छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। एडीजी जोन ने पूरे थाने को लाइन हाजिर कर दिया है। कुल तीन लोगों की अभी गिरफ्तारी की गई है। डीआइजी झांसी को मौके पर रहने के निर्देश दिए गए हैं। दोषी कोई भी हो चाहे पुलिस वाला भी सभी के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

- Advertisement -

नाबालिक पीड़िता के बयान पर ललितपुर के पुलिस अधीक्षक निखिल पाठक ने आरोपी एसएचओ को लाइन हाजिर करने के बाद केस दर्ज करने का आदेश दिया था। इस मामले में एसएचओ, पीड़िता की मौसी और चार अन्य लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। ललितपुर एसपी ने बताया कि एक नाबालिग ने 22 अप्रैल को चार लड़कों पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। जब उसे थाने लाया गया तो एसएचओ ने उसके फिर से दुष्कर्म किया।

बताया जा रहा है कि आरोपित एसएचओ तिलकधारी सरोज के कहने पर किशोरी की मौसी उसको लेकर पाली थाने पहुंची थी। इस घटना के बाद 13 वर्षीय किशोरी को जिला अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। इससे पहले उसका डाक्‍टरी परीक्षण कराया गया था। चाइल्ड केयर की काउंसलिग में पता चला था कि नाबालिग के साथ थाने में यौन उत्‍पीड़न हुआ था।

hind morcha news app

Most Popular