Crime

12 वर्षीय नाबालिग के साथ मौसा ने दुष्कर्म के बाद किशोरी से किया कुकर्म, तबीयत बिगड़ने पर सामने आई घिनौनी हरकत

नई दिल्ली। खजूरी इलाके में रिश्तों को शर्मसार करने वाली वारदात सामने आई है। 12 वर्षीय किशोरी के साथ उसके मौसा ने पहले दुष्कर्म किया और उसके बाद कुकर्म किया। जान से मारने की धमकी देकर मुंह रखने के लिए कहा। पेट में दर्द होने पर जब स्वजन किशोरी को अस्पताल लेकर गए, जब मौसा की करतूत का पता चला। पीड़िता की मां की शिकायत पर खजूरी खास थाने में पुलिस ने दुष्कर्म, कुकर्म व पाक्सो की धारा में प्राथमिकी पंजीकृत की है। 52 वर्षीय आरोपित को गिरफ्तार कर कड़कड़डूमा कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया है।पीड़िता का परिवार खजूरी क्षेत्र में रहता है।

वारदात के दौरान छोटे बच्चों को भेज दिया बाहर

परिवार में माता-पिता के अलावा कई सदस्य हैं। पीड़िता एक स्कूल में छठी कक्षा में पढ़ाई करती है। पीड़िता का मौसा अपने परिवार के साथ पुरानी दिल्ली में रहता है। आरोप है कि 28 अक्टूबर को पीड़िता के घर पर उसका मौसा आया था, पीड़िता के माता-पिता किसी काम से घर से बाहर गए हुए थे। आरोपित ने पीड़िता के दो छोटे भाइयों को पैसे देकर दुकान से कुछ सामान लाने के लिए भेज दिया।

स्वजनों को बताने पर दी जान से मारने की धमकी

सबके चले जाने के बाद किशोरी से दुष्कर्म व कुकर्म किया। वारदात के बारे में स्वजन को बताने पर जान से मारने की धमकी भी दी । दो नवंबर को पीड़िता के अचानक से पेट में दर्द होने लगा। स्वजन उसे डाक्टर के पास लेकर गए। डाक्टरों ने उन्हें पीड़िता के साथ दुष्कर्म होने की बात बताई। जिसके बाद स्वजन ने पीड़िता से पूछताछ तो उसने मौसा की करतूत के बारे में बताया।

हार्डवेयर कारोबारी को जाल में फंसाने का आरोप

वहीं, पूर्वी दिल्ली के खजूरी इलाके में एक युवती ने बेशर्मी की सारी हदें पार कर दी। एक हार्डवेयर कारोबारी को अपने जाल में फंसाकर जबरन शारीरिक संबंध बनाएं। दुष्कर्म के झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर दस लाख रुपये वसूल लिए। बदनामी करने का डर दिखाकर कारोबारी से एक करोड़ रुपये का चेक भी ले लिया। 37 वर्षीय कारोबारी की शिकायत पर शुक्रवार को खजूरी थाने में वसूली, धमकी सहित विभिन्न धाराओं में प्राथमिकी पंजीकृत कर पुलिस ने आरोपित युवती को गिरफ्तार कर लिया है।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker