Wednesday, May 18, 2022
HomeCrimeभाई बनाकर शादीशुदा Boyfriend की करवाई पति से दोस्ती, फिर शादी के...

भाई बनाकर शादीशुदा Boyfriend की करवाई पति से दोस्ती, फिर शादी के 26 दिन बाद पत्नी ने खुद उजाड़ा सुहाग

छतरपुर. मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के दौरिया गांव में एक मुस्लिम महिला और हिंदू विवाहित युवक की प्रेम कहानी से पुलिस ने पर्दा हटाया तो दोनों कातिल निकले. महिला ने अपने ही पति का कत्ल प्रेमी के हाथों कराकर फरार हो जाने का प्लान बनाया था. कत्ल करने तक तो वो अपने मंसूबों में कामयाब भी हो गए, लेकिन पुलिस के साइबर सेल ने मोबाइल फोन की कॉल डिटेल से सारा भंडाफोड़ कर दिया.

पुलिस ने महिला के पति का मर्डर होने के करीब दो महीने बाद सारे केस को सुलझाकर हत्या का पर्दाफाश कर दिया. पुलिस ने कत्ल के आरोप में प्रेमी-प्रेमिका को गिरफ्तार भी कर लिया है. हैरान करने वाली बात यह थी कि शादी के महज 26 दिन बाद ही आरोपी महिला ने अपने पति को मौत के घाट उतरवा दिया था. घटना करीब 5 साल (30 दिसंबर, 2017) पुरानी है लेकिन क्राइम और सस्पेंस से भरी इस लव स्टोरी का खौफनाक अंजाम आज भी सिहरन पैदा कर देता है.

- Advertisement -

छतरपुर के दौरिया गांव के हिंदू-मुस्लिम जोड़े की यह कहानी प्यार और धोखे से लिपटी है. इस घटना की मास्टर माइंड रूबीना के पड़ोस के युवक जितेंद्र कुशवाहा से काफी समय से प्रेम संबंध थे. रूबीना को पता था कि जितेंद्र शादीशुदा है, फिर भी उसके साथ प्रेम प्रसंग चला रही थी. जितेंद्र भी अपनी पत्नी को धोखा दे रहा था. अलग-अलग धर्मों के होने के कारण दोनों छुप-छुपकर मिलते थे.

रूबीना के न चाहने के बावजूद घर वालों ने करा दी जावेद से शादी

- Advertisement -

प्रेम प्रसंग के बीच रूबीना के लिए घर वालों ने लड़का देखना शुरू कर दिया. हालांकि रूबीना ऐसा बिल्कुल भी नहीं चाहती थी और शादी से इनकार करती थी. लेकिन मां-बाप की मर्जी के आगे उसकी एक न चली और रूबीना की शादी उसके घर वालों ने जिला टीकमगढ़ के पठाराम गांव के जावेद से करवा ही दी. शादी के बाद रूबीना ससुराल चली गई और फिर पहली विदा के बाद अपने पीहर आई तो प्रेमी जितेंद्र से मिली. वह फूट-फूटकर रोई की शादी के बाद भी उसके बिना नहीं रह सकती.

रूबीना ने ऐसे बनाया मर्डर प्लान

प्रेमी जितेंद्र ने रूबीना को समझाया कि शादी के बाद अब यह संभव नहीं हो पाएगा. दोनों शादीशुदा थे, इसके बावजूद उन दोनों में नजदीकियां बढ़ी. फिर मास्टर-माइंड रूबीना ने जितेंद्र को आइडिया दिया कि किसी तरह अगर वह दोनों मिलकर जावेद को रास्ते से हटा दें, तो ससुराल वाले उसे मनहूस मानकर उसके घर दौरिया भेज देंगे. तब वो आराम से साथ रह सकते हैं. जरूरत पड़ी तो वो दोनों घर से फरार हो जाएंगे.

प्रेमी जितेंद्र को अपने प्यार का वास्ता देकर रूबीना ने रास्ते के कांटे को हटाने के लिए तैयार कर लिया. मगर अब सवाल ये था कि जावेद को ठिकाने कैसे लगाया जाए. यह काम इतनी कुशलता से अंजाम देना होगा कि किसी को भी इन दोनों पर शक भी न होने पाए. तब प्लान के तहत रूबीना ने जितेंद्र को एक दिन जावेद से अपने रिश्ते के भाई के रूप में मिलवाया और दोनों की मिलकर और फोन पर बातचीत होने लगी.

कुछ ही दिनों के बाद जितेंद्र के कहने पर जावेद दौरिया आया. रूबीना से मिलकर जावेद और जितेंद्र निकल गए. इसके बाद दोनों ने छतरपुर रोड स्थित सांझा चूल्हा के पास बने नगर पालिका के पार्क में बैठकर शराब पी. प्लानिंग के तहत जितेंद्र शराब पीने के बाद जावेद को वहीं पास में बंद पड़े सांझा चूल्हा की बाउंड्री के अंदर ले गया और देसी कट्टे से उसके सीने में गोली मार दी. गोली लगते ही जावेद वहीं ढेर हो गया. जितेंद्र हत्या करने के बाद जावेद की लाश को वहीं पर छोड़कर दौरिया चला आया.

hind morcha news app

Most Popular