Monday, May 16, 2022
HomeCrimeथाने पर मुकदमा दर्ज नहीं होता, शिकायत लेकर जाने पर इंस्पेक्टर भगा...

थाने पर मुकदमा दर्ज नहीं होता, शिकायत लेकर जाने पर इंस्पेक्टर भगा देता, डिप्टी सीएम के सामने रो पड़ी दुष्कर्म पीड़ित

लखनऊ। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की सर्किट हाउस में आयोजित जन चौपाल में बरहन थाना क्षेत्र की एक दुष्कर्म पीड़िता अपनी बात कहते-कहते फफक-फफक कर रो पड़ी। पीड़िता ने कहा उसे थाने में न्याय नहीं मिल रहा है। इंस्पेक्टर भी भगा देता है। उसकी रिपोर्ट भी नहीं लिखी जा रही है। उसे न्याय दिलाया जाए। इस पर उपमुख्यमंत्री ने तत्काल एसएसपी सुधीर कुमार सिंह को बुलाकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

उपमुख्यमंत्री जब भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ अलग से बातचीत कर रहे थे‌। उसी दौरान कुछ लोग नारेबाजी करते हुए सर्किट हाउस पहुंच गए। उनकी नारेबाजी से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। मामले की जांच पड़ताल की गई तो पता चला कि कुछ लोग एक दुष्कर्म पीड़िता को इंसाफ दिलाए जाने की मांग को लेकर आए हैं। ‌

- Advertisement -

पीड़िता ने बताया कि उसके देवर ने उसके साथ मारपीट की और दुष्कर्म भी किया। पुलिस से शिकायत की तो पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की। इसलिए कई दिनों से वह रिपोर्ट लिखाने के लिए दर-दर भटक रही है। उसके चोटें भी आई हैं लेकिन पुलिस को उसका दर्द दिखाई नहीं देता। डिप्टी सीएम ने पीड़िता की बात सुनी और कार्रवाई के निर्देश दिए।

लपकों और कब्जों की भी आईं शिकायतें

- Advertisement -

जनचौपाल में लपकों की भी समस्या उठीं। प्रदीप कुमार ने ताजमहल और आसपास के क्षेत्र में लपकों के आतंक और पर्यटकों के साथ अभद्र व्यवहार की समस्या को उठाया। ग्वालियर रोड पर धार्मिक स्थल के हो रहे अवैध निर्माण को लेकर गोविंद कुमार ने शिकायती पत्र दिया। बरौली अहीर में दबंगों द्वारा जमीन कब्जाने की शिकायत संजय दीक्षित ने की। भाजपा के जिला उपाध्यक्ष राम कुमार शर्मा ने आगरा-हाथरस रोड पर बनी मस्जिद में व्यावसायिक केंद्र होने कि शिकायत की। कहा कि इससे अतिक्रमण हो रहा है। उन्होंने मस्जिद में चल रहे व्यवसाय को बंद कराने की मांग भी की। इस पर डिप्टी सीएम ने जांच कराने के आदेश दिए।

याचिका खारिज करने का स्वागत किया

सर्किट हाउस में पत्रकारों के सवालों के जवाब में डिप्टी सीएम ने लाउडस्पीकर से अजान प्रकरण में बदायूं के मुत्तवली की याचिका न्यायालय द्वारा खारिज किए जाने के फैसले को स्वागत योग्य बताया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार हर वर्ग के लिए काम कर रही है। किसी के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि किसी भी अपराधी को बख्शा नहीं जाएगा। जनचौपाल में आई समस्याओं को लेकर जब उनसे पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अधिकारियों को गंभीर होना होगा। जो अधिकारी समस्याओं का त्वरित निस्तारण नहीं करेगा तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

न्यायालय के आदेश का सम्मान होगा

वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद का कोर्ट के आदेश पर सर्वे होने जा रहा है लेकिन एक समुदाय ने इसका विरोध कर दिया है। इसको लेकर उपमुख्यमंत्री ने कहा कि न्यायालय का जो आदेश आया है। उस आदेश का सम्मान होगा और आदेश का पालन भी कराया जाएगा।

hind morcha news app

Most Popular