BusinessLocalNationalPolitics

CM योगी ने किया वाटर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स का उद्घाटन, बोले-जॉब सीकर नहीं जॉब क्रिएटर बनेंगे UP के युवा

 गोरखपुर : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी के युवा अब जॉब सीकर नहीं बल्कि जॉब क्रिएटर बनेंगे। प्रदेश सरकार की तरफ से आईटीआई, पॉलिटेक्निक, मेडिकल-पैरा मेडिकल, प्रौद्योगिकी शिक्षा संस्थानों, विश्वविद्यालय व कॉलेजों के स्नातक-परास्नातक के विद्यार्थियों को दिए जा रहे टैबलेट और स्मार्ट फोन इसमें मददगार होंगे।

इन टैबलेट और स्मार्ट फोन में ऑनलाइन एजुकेशन के साथ, प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में तो मदद मिलेगी ही, इसमें स्टार्टअप, मुद्रा, स्टैंडअप आदि ऐसी प्रमुख योजनाओं की सविस्तार जानकारी होगी। यह युवाओं को नौकरी तलाशने वाला की बजाय नौकरी देने वाला बनाएंगी। स्टार्ट अप को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश सरकार ने एक स्पेशल फंड भी बनाया है।

सीएम योगी गुरुवार को गोरखपुर को विश्व स्तरीय वाटर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स की सौगात देने के साथ ही 1305 करोड़ रुपये की लागत वाली 114 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास एं युवाओं में टैबलेट-स्मार्ट फोन वितरण समारोह को संबोधित कर रहे थे।

महंत दिग्विजयनाथ स्मृति पार्क में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने नववर्ष के दो दिन पूर्व जनपद को आईटीआई, पॉलिटेक्निक, गुरु गोरखनाथ शोधपीठ, राजकीय इंटर कॉलेज, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, अक्षयपात्रा केंद्रीयकृत एमडीएम रसोईघर, गोरखपुर विश्वविद्यालय में छात्रावास, ड्रग वेयरहाउस, ओवरब्रिज, फोरलेन, कई सडकों-नालियों समेत हर विधानसभा क्षेत्र में विकास कार्यों का उपहार दिया।

सीएम ने 1020 करोड़ रुपये की 102 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण व 285 करोड़ रुपये की लागत वाली 12 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। समारोह में मुख्यमंत्री की मौजूदगी में एक हजार विद्यार्थियों को स्मार्ट फोन व टैबलेट का वितरण किया गया।

24 युवाओं को मुख्यमंत्री ने मंच पर अपने हाथों से टैबलेट व स्मार्ट फोन प्रदान किया। इस दौरान उन्होंने इन विद्यार्थियों से आत्मीय संवाद कर उनकी पढ़ाई के बारे में पूछा और उन्हें आगे बढ़ने की प्रेरणा दी।

अनवरत जारी रहेगा टैबलेट-स्मार्ट फोन का वितरण

सीएम योगी ने कहा कि राज्य सरकार ने तय किया है कि स्नातक, परास्नातक, तकनीकी, मेडिकल आदि की शिक्षा से जुड़े छात्र -छात्राओं को निशुल्क टेबलेट व स्मार्ट फोन दिए जाएंगे । 25 दिसंबर को लखनऊ से इसका शुभारंभ किया गया है।

लखनऊ में 60000 युवाओं को टैबलेट व स्मार्ट फोन दिए गए और आज यहां 1000 को दिया जा रहा है। पंजीकृत शेष विद्यार्थियों को उनके संस्थाओं में टैबलेट व स्मार्ट फोन का वितरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह कार्य अनवरत जारी रहेगा।

वाटर स्पोर्ट्स की मिलेगी ट्रेनिंग, पारंगत होंगे युवा

लोकार्पण व शिलान्यास समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ईस्वी सन 2022 के आगमन के पहले गोरखपुर को कल और आज मिलाकर करीब 1850 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का उपहार मिला है।

इनमें सबसे खास है वाटर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स। इस कॉम्प्लेक्स के माध्यम से युवा वाटर स्पोर्ट्स के क्षेत्र में बेहतरीन तरीके से पारंगत होंगे। यह जल क्रीड़ा के लिए ट्रेनिंग का भी एक महत्वपूर्ण केंद्र बनेगा। सबका साथ-सबका विकास के मंत्र से मिली धारणा बदलने में कामयाबी
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर दोहराया कि विकास का कोई विकल्प नहीं होता।

विकास नागरिकों के जीवन में व्यापक परिवर्तन का कारक होता है। उन्होंने कहा कि गोरखपुर और प्रदेश के बारे में नकारात्मक धारणा बदलने में कामयाबी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के “सबका साथ-सबका विकास” मंत्र से मिली। आज पूरे प्रदेश में इसका प्रभाव दिख रहा है । इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के बड़े कार्य हुए हैं।

कहीं खाद कारखाना खुला है, एम्स बना है, मेडिकल कॉलेज बने हैं, चीनी मिलें खुली हैं, नए एयरपोर्ट बने हैं। यह सभी कार्य समग्र विकास से जुड़ते हैं। प्रदेश में कानून व्यवस्था बेहतर हुई तो व्यापक निवेश भी हुआ है। 2017 के पहले तक हर दूसरे -तीसरे दिन प्रदेश में दंगा होता था। बाहर का कोई व्यक्ति यहां आकर निवेश नहीं करना चाहता था।

2017 के बाद बदलते यूपी को सब ने देखा है। यहां अपराध व भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई गई। विकास पर फोकस किया गया। इसके परिणामस्वरूप आज प्रदेश में बड़े पैमाने पर निवेश हो रहा है। उन्होंने कहा कि इस सरकार ने नौकरी में योग्यता के आधार पर पूरी पारदर्शिता से बिना भेदभाव अवसर दिया है।

राज्य में 4:30 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दी गई, 1.61 करोड़ को अन्य रोजगार तथा 60 लाख स्वतः रोजगार से जोड़ा गया। गरीबों के लिए मुफ्त मकान, मुफ्त शौचालय, मुफ्त बिजली, मुफ्त राशन की व्यवस्था की गई।दिसंबर का महीना गोरखपुर के लिए सौभाग्यशाली
सीएम योगी ने कहा कि दिसंबर का माह गोरखपुर के लिए बहुत सौभाग्यशाली है।

7 दिसंबर को प्रधानमंत्री ने यहां खाद कारखाना, एम्स और इंसेफेलाइटिस, डेंगू, कालाजार, चिकनगुनिया आदि बीमारियों की जांच व अनुसन्धान के लिए रीजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर का लोकार्पण किया। कल नगर निगम के भव्य सदन भवन का उद्घाटन हुआ जहां से महानगर के विकास की ठोस कार्य योजनाएं बनाई जाएंगी।

गोरखपुर को वाटर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स की सौगात मिली है । गोरखपुर में रोशनी से जगमगाती चौड़ी सड़कें हैं तो सबको अनवरत बिजली मिल रही है। ईस्वी सन 2022 के आगमन के पूर्व विकास का भव्य वातावरण बना है। मुख्यमंत्री ने सभी लोगों को ईसवी सन 2022 की अग्रिम शुभकामनाएं देते हुए सबके मंगलमय जीवन की कामना भी की।

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सबकी सहभागिता जरूरी

विकास परियोजनाओं की सौगात देने के साथी सीएम योगी ने लोगों को कोरोना संक्रमण से सतर्क रहने की सीख भी दी। कहा कि सरकार ने सबके लिए फ्री जांच, फ्री इलाज, व फ्री वैक्सीन की व्यवस्था की है। कोरोना के खिलाफ सफल लड़ाई लड़ी जा रही है और इस लड़ाई में सभी लोगों की सहभागिता सुनिश्चित होनी चाहिए।

वाटर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स का उद्घाटन कर सीएम योगी ने की बोटिंग

लोकार्पण व शिलान्यास समारोह को संबोधित करने से पूर्व सीएम योगी ने वाटर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स का विधि विधान से पूजन उपरांत उद्घाटन किया। उन्होंने कॉम्प्लेक्स के मॉडल को देखा और कुछ कमरों का निरीक्षण भी किया। कॉम्प्लेक्स के उद्घाटन के पश्चात वह नौका विहार पहुंचे और रामगढ़ताल में बोटिंग की।

सीएम के हाथों इन प्रमुख परियोजनाओं का हुआ लोकार्पण

– वाटर स्पोर्टस कॉम्प्लेक्स – 44.75 करोड़
– आईटीआई जंगल कौडिय़ा – 7 करोड़ रुपये
– आईटीआई सहजनवा – 7.29 करोड़
– आईटीआई भटहट – 9.02 करोड़
– राजकीय इंटर कॉलेज सोनौरा बुजुर्ग कैंपियरगंज – 4.41करोड़
– गोरखपुर विश्वविद्यालय में नेपाली छात्रों के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर का छात्रावास – 9.52 करोड़
– सीएचसी उसवा बाबू – 5.52 करोड़
– राजकीय पॉलिटेक्निक सहजनवा – 15.79 करोड़
– गुरु गोरखनाथ शोध पीठ – 11.56 करोड़
– विधि विज्ञान प्रयोगशाला श्रेणी बी – 66 करोड़
– गोरखपुर विश्वविद्यालय में बालिका छात्रावास – 4.55 करोड़

इन प्रमुख विकास परियोजनाओं का सीएम ने किया शिलान्यास

– ड्रग वेयरहाउस – 9.32 करोड़ रुपये
– नकहा-मानीराम फोरलेन- 76.28 करोड़
– अक्षयपात्र फाउंडेशन का केंद्रीयकृत रसोईघर – 14.02 करोड़
– चौरीचौरा-सोनबरसा समपार पर ओवरब्रिज – 59.44 करोड़

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker