BiharCrime

नाबालिग भतीजी को सगे चाचा ने 6 महीने में अनगिनत बार बनाया हवस का शिकार, अब कोख में कलंक ढो रही 14 वर्षीय किशोरी

पूर्णिया: जिले से एक बेहद ही शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है, जिसमें सगा चाचा ही हैवान बन गया। रिश्ते को तार-तार करने हुए गत छह माह से 14 भतीजी को अपनी हवस का शिकार बनाता रहा। यह बात किसी से बताने पर जान मारने का धमकी भी आरोपित देता था। इससे भयभीत किशोरी उसकी सारी करतूतों को सहती रही। इसी बीच किशोरी गर्भवती हो गई। चार माह की गर्भवती किशोरी की तबीयत बिगड़ने पर उसे उपचार के लिए जब पूर्णिया लाया गया, तो चाचा की रिश्तों को कंलकित कर देने वाली करतूत का उजागर हुआ।

यह घटना जिले के सरसी थाना क्षेत्र के एक गांव की है। किशोरी के गर्भवती होने की बात संज्ञान में आते ही पीड़िता की मां ने इसकी सूचना तत्काल पुलिस अधीक्षक को दी। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर मां के आवेदन पर इसकी नामजद प्राथमिकी महिला थाना में दर्ज कर लिया गया है। एसपी ने आरोपित चाचा की शीघ्र गिरफ्तारी का निर्देश महिला थानाध्यक्ष को दी है। आरोपित की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने छापेमारी भी शुरू कर दी है।

इधर बच्ची की स्थिति को देखते हुए इसकी सूचना चाइल्ड लाइन को दी गई। चाइल्ड लाइन के जिला समन्वयक मयूरेश गौरव व महिला सदस्यों की टीम ने बच्ची को संरक्षण में लिया। बाद में कोर्ट के निर्देशानुसार, फिलहाल बच्ची को बालिका गृह में आवासित किया गया है।

दो बच्चों का पिता है आरोपित चाचा

पीड़ित की मां ने बताया कि उनकी माली हालत ठीक नही है। उनके पति बाहर में मजदूरी करते हैं। वे छह माह पर घर आते हैं और फिर दस-पंद्रह दिन रहने पर वापस चले जाते हैं। आरोपित उनका भैंसूर है। आंगन एक ही है। छह माह से उनका भैंसूर उनकी नाबालिग पुत्री को डरा-धमकाकर उसके साथ अवैध संबंध बना रहा था। पिता के बाहर रहने व अभिभावक के तौर पर चाचा के यहां रहने के कारण उनकी बेटी उन्हें भी कुछ नहीं बता पा रही थी। गत आठ दिन से उनकी बेटी की तबीयत खराब थी।

इस पर शनिवार को वह बेटी को लेकर पूर्णिया इलाज कराने आई। यहां आने पर चिकित्सक ने अल्ट्रासाउंड कराया तो बच्ची के गर्भवती होने की बात सामने आई। यहां पूछने पर बच्ची ने पूरे मामले की जानकारी दी। बच्ची इस कदर दहशतजदा थी कि वह यहां से घर जाने को तैयार नहीं थी। फिलहाल आगे की प्रक्रिया अब कोर्ट के दिशा-निर्देश के आलोक में होगी।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker