BiharCrime

घर में अकेली बहू पर आ गया ससुर का दिल; पति ने शहर से लाकर छोड़ दिया था गांव, फिर ऐसे फंसा मामला

छौड़ाही (बेगूसराय)। बेगूसराय जिले के छौड़ाही ओपी क्षेत्र में रिश्ते को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है। यहां दहेज लोलुप ससुराल वालों ने बहू को प्रताडि़त किया। पति भी प्रताडऩा में साथ देते थे। बहू के घरवालों से लाखों रुपये भी ऐंठ लिए। फिर बहू को अकेली देख ससुर ने गंदी हरकत कर दी। घटना छौड़ाही बाजार के एक बड़े व्यवसायी परिवार से जुड़ा हुआ है। इससे छौड़ाही पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया। आजिज बहू ने नैहर समस्तीपुर जिले के रोसड़ा थाना में ससुर एवं पति के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराकर न्याय की गुहार लगाई है।

नौ वर्षों से हो रही थी प्रताडि़त

छौड़ाही ओपी क्षेत्र के छौड़ाही बाजार निवासी एक व्यवसायी की पत्नी ने प्राथमिकी में कहा है कि 22 अप्रैल 2017 को उसकी शादी हुई थी। शादी खर्च के रूप में उनके पिता ने आठ लाख रुपये नगद के अलावा 10 लाख मूल्य के सोने के जेवरात एवं अन्य उपहार उनके ससुर एवं पति को दिए थे। शादी के बाद उनके पति उन्हें दिल्ली लेकर गए। वहां कम दहेज देने को ले मारपीट एवं प्रताडि़त करते रहे।

चार लाख रुपए पंचों के सामने दिए

पिता को जब जानकारी हुई तो उन्होंने गवाह के समक्ष लिखित रूप से कई बार में चार लाख से ज्यादा उनके ससुर एवं पति को दिए। इसका पंचनामा भी मौजूद है। इसके बाद एक पुत्र डुग्गू का जन्म हुआ। कुछ दिन पति ने उन्हें पटना में भी रखा, लेकिन मारपीट कर फिर छौड़ाही में लाकर छोड़ दिया गया। इसके बाद पति लौटकर नहीं आए।

ससुर ने की गंदी हरकत

प्राथमिकी में ने कहा है कि पति घर पर छोड़ दिया था। एक रात उनके ससुर अकेली पाकर उनके कमरे में आकर उनके साथ गंदी हरकत करने लगे। शोर शराबा किए तो उन्हें पीट कर जख्मी कर दिया। पिता एवं भाई सूचना पर आए तो ससुराल वालों ने उनकी भी पिटाई कर दी और सारा सामान रखकर घर से उन्हें भी बाहर निकाल दिया। तब से न्याय के लिए भटक रहे हैं।

पुलिस कर रही छापेमारी

इस संबंध में रोसड़ा थाना अध्यक्ष रामबाबू कामती का कहना है कि बहू ने ससुर पर गंभीर आरोप लगाकर आवेदन दिया था। त्वरित कार्रवाई कर प्राथमिकी की गई है। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए सोमवार की रात्रि एवं मंगलवार को छौड़ाही पहुंच छापेमारी भी की गई है।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker