Baliya

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना, मनरेगा कार्यों, पी.एम.किसान सम्मान निधि, निराश्रित गोवंश, पराली प्रबंधन आदि के संबंध में बैठक संपन्न

नदीम अहमद विशेष तहसील रिपोर्टर मऊ हिन्दमोर्चा न्यूज़ चैनल उत्तर प्रदेश

अगले 2 सप्ताह में सभी छुट्टा पशुओं को नए अस्थाई गौशालाओं में रखने के दिए निर्देश।समस्त विकास खंडों में माह दिसंबर तक मॉडल खेल मैदान बनाने के दिए निर्देश।

आज जिलाधिकारी अरुण कुमार की अध्यक्षता में प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना, मनरेगा कार्यों, निराश्रित गोवंश, पी.एम.किसान सम्मान निधि, पराली प्रबंधन आदि के संबंध में समीक्षा बैठक संपन्न हुई।

बैठक के दौरान उप निदेशक मत्स्य रिचा चौधरी ने बताया कि प्रधानमंत्री संपदा योजना के तहत कुल 1526 आवेदन प्राप्त हुए थे, जिनमें 534 पात्र एवं 152 आवेदन जांच के दौरान अपात्र पाए गए। 840 आवेदन अपूर्ण थे, जिनको ठीक कर जमा करने के लिए निर्धारित समय तक आवेदन कर्ताओं को समय दिया गया था।

जिलाधिकारी ने ऐसे समस्त आवेदन जो निर्धारित समय अवधि के बाद भी अपूर्ण पाए गए, उन्हें अपात्र घोषित करने के निर्देश दिए। साथ ही प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत पात्र आवेदन पत्रों को मुख्य विकास अधिकारी की उपस्थिति में लॉटरी के माध्यम से योजना का लाभ देने के निर्देश उपनिदेशक मत्स्य को दिए।

मनरेगा कार्यों की समीक्षा के दौरान डीसी मनरेगा ने बताया कि माह नवंबर तक के लिए निर्धारित मानव कार्य दिवस के सापेक्ष 92.19% लक्ष्य हासिल हुआ है। लेबर इंगेज्ड में जनपद मऊ का प्रदेश में आठवां स्थान है। मनरेगा के तहत कार्यरत मजदूरो के आधार सीडिंग का लगभग 96% कार्य पूर्ण हो चुका है एवं जनपद मऊ का आधार सीडिंग में प्रदेश में तीसरा स्थान है।

समीक्षा के दौरान समय से भुगतान न करने एवं 100 दिन के कार्यों में परदहा विकासखंड के खराब प्रदर्शन पर जिलाधिकारी ने परदहा के ए.पी.ओ. को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। इसके अलावा अपूर्ण कार्यों को पूरा करने एवं नए अ स्थाई गौशाला के निर्माण में रानीपुर के खराब प्रदर्शन पर जिलाधिकारी ने संबंधित खंड विकास अधिकारी को कड़ी फटकार लगाते हुए दिसंबर माह के अंदर सारे कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए।

अमृत सरोवर योजना की समीक्षा के दौरान निर्धारित लक्ष्य 78 के सापेक्ष अब तक मात्र 22 अमृत सरोवरों का कार्य पूर्ण होने पर उन्होंने समस्त खंड विकास अधिकारियों को चेतावनी देते हुए दिसंबर माह के अंत तक सारे कार्य पूर्ण करने को कहा।

उन्होंने समस्त खंड विकास अधिकारियों को अपने विकासखंड में लोकल बाजारों का चिन्हांकन 1 सप्ताह के अंदर कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए, जिसके आधार पर संबंधित क्षेत्र में उप जिलाधिकारियों के मदद से लोकल हाट बाजार के लिए जमीनों को चिन्हित कर मनरेगा के तहत वहां पर लोकल हाट बाजारों का निर्माण कराया जा सके।

निराश्रित गोवंश की समीक्षा के दौरान सभी ब्लॉकों में बनाए गए 27 नए अ स्थाई गौशालाओं में से 20 का संचालन शुरू होने पर उन्होंने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को छुट्टा जानवरों को अगले 2 सप्ताह के अंदर इन गौशालाओं में सुरक्षित रखने के निर्देश दिए।साथ ही ठंड के दृष्टिगत इन गौ शालाओं में पर्दा लगाने एवं अलाव की व्यवस्था करने को भी कहा।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Back to top button
error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker