Ayodhya

22 वर्षीय महिला को बंधक बनाकर दुष्कर्म करने का आरोपी सैय्यद मो. अशरफ गिरफ्तार

  • 22 वर्षीय महिला को बंधक बनाकर दुष्कर्म करने का आरोपी सैय्यद मो. अशरफ गिरफ्तार
  • एक दौर वह भी गुजरा है जब लड़कियों पर पाबंदी लगाई गई थी दरगाह में आने की
  • बाहर से आई लड़कियों के साथ आए दिन इस तरह की हरकतों का मामला आम
  • दरगाह क्षेत्र में होते हैं बड़े से बड़े अपराध,सब राजनीति की आड़ में होते रहे दफन

टांडा,अंबेडकरनगर। बसखारी थाना क्षेत्र में स्थित विश्व प्रदेश सूफी संत सै.हजरत मखदूम अशरफ सिमनानी की दरगाह में जो कि रूहानी इलाज के लिए पूरी दुनिया में मशहूर है और पूरी दुनिया भर से लोगों का आगमन इस पवित्र स्थली पर होता है जहां पर लोग बाबा का दर्शन करते हैं और पीड़ित अपना रूहानी इलाज करवाते हैं। लेकिन इसी रूहानी इलाज की आड़ में न जाने कैसा-कैसा काला और घिनौना कारनामा चारदीवारी के अंदर दफन हो जाती है। बाहर से आई लड़कियों के साथ जिस तरह से अश्लीलता और दुष्कर्म की जाती है उसे जानकर और सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे जिसका एक नायाब नमूना सामने आया है। जिसमें एक मौलाना झाड़ फूंक के नाम पर महिला को जबरन बंधक बनाकर उसका बलात्कार करता है और फिर किसी को न बताने की धमकी भी देता है।
मामला प्रकाश में आते ही त्वरित रूप से पुलिसिया कार्रवाई भी हो गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार महाराष्ट्र से 22 वर्षीय महिला अपने पति,सास और ससुर के साथ सैयद हजरत मखदूम अशरफ सिम्नानी के दर पर दर्शन के लिए आई हुई थी। रूहानी इलाज के लिए एक 50 वर्षीय मौलाना सैयद मोहम्मद अशरफ पुत्र इनाम अशरफ झाड़ फूंक के मकड़ जाल में फंसाकर कमरे में ले गया और फिर महिला को देखकर उसकी नियत फिसल गई खुद पर कंट्रोल न कर सका मौलाना के अंदर का शैतान जाग गया और एक बहसी दरिंदे की तरह कमरे का दरवाजा बंद करके महिला पर टूट पड़ा बेबस लाचार महिला बेचारी क्या करती उसके साथ किस तरह का घिनौना कृत्य इस मौलाना ने किया होगा और फिर उसके साथ बलात्कार किया और अपने जिस्म का हवस मिटाने के बाद महिला को जमकर डराया और धमकाया कि अगर किसी को बताया तो अंजाम बुरा होगा। लेकिन कहते हैं न साहब 21वीं सदी हैं माना कि इस 50 वर्षीय ढोंगी बहसी दरिंदे मौलाना से निपटने की ताकत महिला में नहीं थी लेकिन जज्बात और बदले की आग अपने मान सम्मान का बदला लेने की हैसियत और ताकत महिला ने दिखाते हुए अपने परिजनों से अपनी सारी आपबीती बताई। पीड़ित महिला की आपबीती सुनते ही उसके पति,सास और ससुर के पैरों तले जमीन खिसक गए। उन्हें कुछ समझ न आया कि यह सब क्या हो गया। आनन-फानन में बसखारी थाने पहुंचकर प्रार्थना पत्र देकर थानाध्यक्ष से न्याय की गुहार लगाई। इधर मामला आग की तरह क्षेत्र में फैल गया। क्योंकि लोगों को डर था कि कहीं हमेशा की तरह इस बार भी मामला राजनीतिक प्रभाव से दफन न हो जाए किंतु ऐसा न हो सका। लोग अपनी दबी आवाज में यह कहते नजर आ रहे हैं कि यह कोई नई बात तो नहीं है हां बेशक आज एक मामला उजागर हो गया लेकिन न जाने कितने लड़कियों के तन इज्जत आबरू को चार दिवारियों के बीच में बिस्तर गर्म करने की हवस मिटाने के लिए कुचल दिया जाता रहा है। मामला महिला का है तो पुलिस का एक्शन जरूरी था क्योंकि प्रदेश की योगी सरकार में महिलाओं की इज्जत आबरू से खेलने वालों का अंजाम बहुत ही भयानक होता है और होना भी चाहिए नवागत बसखारी थानाध्यक्ष राजेश कुमार सिंह को एक बलात्कारी मौलाना ने घटना को अंजाम देकर सलामी ठोकी। थानाध्यक्ष ने पूरी तत्परता दिखाते हुए तत्काल प्रभाव से बहसी दरिंदा बलात्कारी मौलाना को गिरफ्तार कर लिया। बलात्कारी मौलाना की गिरफ्तारी के लिए बसखारी थानाध्यक्ष के साथ वरिष्ठ उप निरीक्षक सर्वेंद्र अस्थाना,कांस्टेबल रविकांत, कृष्णकांत ठाकुर,रणधीर सिंह ने महिला के साथ दरिंदगी करने वाले बलात्कारी मौलाना की गिरफ्तारी को अंजाम दिया। प्रकरण के संबंध में बसखारी थानाध्यक्ष राजेश कुमार सिंह ने बताया की पीड़िता के परिजनों की तहरीर पर त्वरित कार्यवाही करते हुए मुकदमा पंजीकृत कर आरोपी को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker