Ayodhya

सेवा निवृत्त सैनिकों और आश्रितों को डीएम ने प्रशस्ति पत्र देकर किया सम्मानित

अम्बेडकरनगर। जिलाधिकारी अविनाश सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जिला सैनिक बंधु की बैठक आयोजित किया गया। अवगत कराना है कि सशस्त्र बल अमजमतंदे दिवस हर साल 14 जनवरी को मनाया जाता है, क्योंकि 1953 में इस दिन, भारतीय सेना के पहले भारतीय कमांडर-इन-चीफ फील्ड मार्शल केएम करियप्पा, जिन्होंने 1947 के युद्ध में भारतीय सेनाओं को जीत दिलाई थी, औपचारिक रूप से सेवा से सेवानिवृत्त हुए थे। यह दिन देश के सम्मानित दिग्गजों को समर्पित है।

सेवानिवृत्त लोगों, सेवारत और राष्ट्र के बीच सौहार्द की पुष्टि करने और उन नायकों को याद करने और सम्मानित करने के लिए 2017 से अमजमतंद दिवस मनाया जा रहा है। पूर्व सैनिकों के निस्वार्थ कर्तव्य और राष्ट्र के प्रति उनके बलिदान के सम्मान और बहादुरों के परिजनों के प्रति एकजुटता के प्रतीक के रूप में, 14 जनवरी को देश भर में आठवां सशस्त्र बल टमजमतंद दिवस मनाया जा रहा है।

कार्यक्रम के तहत पूर्व सैनिकों को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी ने सेवारत और सेवानिवृत्त सैनिकों के प्रति आभार व्यक्त किया। जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास द्वितीय विश्व युद्ध के 11 पूर्व सैनिकों विधवाओं को जिलाधिकारी द्वारा राज्य आकस्मिक अनुदान प्रति पात्र 3500 रूपया की सहायता अनुदान का डेमो चेक देकर सम्मानित किया गया।

साथ ही साथ जिलाधिकारी द्वारा 12 शहीदों के आश्रितों पेंशनरों पूर्व सैनिकों को साल एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। तथा 4 सैनिक कल्याण कार्यालय के कर्मिको को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। तथा कम्बल भी वितरित किया गया। इसके उपरांत पूर्व सैनिकों शहीदों के आश्रितों द्वारा अपनी-अपनी समस्याओं के बारे में जिलाधिकारी को अवगत कराया गया।

जिस पर जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि इनकी सभी समस्याओं का निस्तारण ससमय तथा गुणवत्तापूर्ण किया जाए। बैठक के दौरान जिला विकास अधिकारी सुनील कुमार तिवारी, जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी कर्नल बीके शुक्ल, जिला सूचना अधिकारी संतोष कुमार द्विवेदी, पूर्व सैनिक, शहीदों के आश्रित, पेंशनर तथा सैनिक कल्याण के कर्मिक मौके पर उपस्थित रहे।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker