Ayodhya

सावधान ! विद्युत विभाग में महिला कर्मचारी की धमकी उपभोक्ताओं की समस्या में बन रही बाधा

  • सावधान ! विद्युत विभाग में महिला कर्मचारी की धमकी उपभोक्ताओं की समस्या में बन रही बाधा

अम्बेडकरनगर। सावधान! यदि आप बिजली बिल समस्या आदि को लेकर अधिशासी अभियंता कार्यालय अकबरपुर जा रहे है तो यहां के अधिकारी आपकी समस्या सुनने व उसके निस्तारण के बजाय महिला कर्मचारी को आगे कर छेड़खानी आदि के आरोप में मुकदमा दर्ज कराकर जेल भेजा जा सकता है। यह हाल है अकबरपुर स्थित बिजली विभाग कार्यालय का जहां पहले महिला कर्मी ने छेड़खानी की धारा में मुकदमा दर्ज कराने की धमकी दी गई। जब इस मामले की पीड़ित ने अधिशाषी अभियंता से शिकायत की तो उन्होंने कहा कि जल्दी भाग जाओ अन्यथा पुलिस बुला दूंगा। जलालपुर उपकेंद्र के कादीपुर गांव निवासी राज उपाध्याय ने बताया कि सोमवार को मोटर कनेक्शन कटवाने के 13 साल बाद लाखो रुपए बिल आने की शिकायत लेकर अकबरपुर ऑफिस गए थे। जहां अपनी फाइल 1 काउंटर पर जमा करने गए परंतु वहां से उन्हें 4 नंबर काउंटर पर भेज दिया गया। तत्समय कार्यालय में कोई जिम्मेदार मौजूद नहीं था। जब काउंटर नंबर 4 पर पहुंचा वहां एक महिला कर्मचारी बैठी थी । उसने कागजात लेने से इनकार करते हुए कहा कि एसडीओ के पास जाइए। जब एसडीओ के पास गये वह मौजूद नहीं रहे। लौटते समय अधिशाषी अभियंता कक्ष में बैठे थे। अपनी फाइल लेकर अधिशासी अभियंता के पास पहुंचे जहां उन्हें फाइल दिया गया। उन्होंने फाइल देखने के बाद कहा कि इसको 4 नंबर पर महिला कर्मचारी को रिसीव करवा दीजिए। जब अभियंता से महिला कर्मचारी फाइल रिसीव करने से मना कर रही है बताया गया तो उन्होंने बुलाकर फाइल दिया। जब पीड़ित ने महिला से कहा मुझे बार-बार दौड़ा रही हो यह अच्छी बात नहीं है तो उसने कहा कि बहुत बात करोगे तो तुम्हें हम छेड़खानी में फंसा देंगे और फाइल लेने से इनकार कर दिया। जब इसकी शिकायत अधिशासी अभियंता अनूप कुमार सिंह से की गई तो उन्होंने कहा कि वह सही कह रही है अभी पुलिस बुलाकर तुम्हें बंद करा देंगे। पीड़ित किसी तरीके से अपनी इज्जत बचाकर बाहर निकल आया। पीड़ित द्वारा इसकी शिकायत मोबाइल से उच्चाधिकारियों तक करने का प्रयास किया गया परन्तु किसी ने फोन रिसीव नही किया। अब ऐसे मे सवाल उठता है कि अगर इसी तरीके से अधिकारीयो और कर्मचारियों द्वारा व्यवहार किया जायेगा तो पीड़ित कैसे न्याय पायेगा यक्ष प्रश्न बन गया है। पीड़ित ने इस घटना की शिकायत मुख्यमंत्री पोर्टल के साथ ही बिजली विभाग के उच्चाधिकारियों से की है।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker