Ayodhya

रोड नहीं तो वोट नहीं का बैनर लगा अलमापुर अमरतल के ग्रामीणों ने जताया विरोध

  • रोड नहीं तो वोट नहीं का बैनर लगा अलमापुर अमरतल के ग्रामीणों ने जताया विरोध

अम्बेडकरनगर। अलमापुर अमरतल गांव के ग्रामीणों ने सड़क की मरम्मत न कराए जाने से रोड नहीं तो वोट नहीं का बैनर लगाकर नाराजगी जताई है और विभागीय अधिकारियों से सड़क मरम्मत की मांग की है।

अकबरपुर ब्लॉक क्षेत्र के अंतर्गत अलमापुर अमरतल गांव में 15 वर्ष पहले पीडब्ल्यूडी के माध्यम से करीब 20 लाख रुपए की लागत से दो किलोमीटर सड़क बनवाया गया था। सड़क निर्माण के बाद फिर किसी ने इधर मुड़कर नहीं देखा। सड़क की दशा बेहद बेहतर है। इसमें जगह-जगह गड्ढे हो गए हैं। सड़क के ऊपर की डामर व गिट्टी पूरी तरह से उखड़ कर गायब हो चुकी है। सड़क पर पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है। नुकीले पत्थरों के बीच आवागमन करने से आए दिन वाहन पंचर होते रहते हैं। रात के अंधेरे में राहगीर व ग्रामीण अक्सर गिरकर चोटिल होते रहते हैं। सबसे अधिक परेशानी स्कूली छात्र-छात्राओं को होती है बारिश के दिनों में समस्या बढ़ जाती है। ग्रामीणों ने उक्त सड़क की मरम्मत कराये जाने के लिए कई बार क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों व विभागीय अधिकारियों को अवगत कराया लेकिन किसी ने समस्या को लेकर गंभीरता नहीं दिखाई। लोकसभा चुनाव का बिगुल बजने के बाद यह मुद्दा जोर पकड़ रहा है। ग्रामीणों ने विरोध का नायाब तरीका ढूंढ निकाला है। गांव के बाहर रोड नहीं तो वोट नहीं का बैनर लगाकर नाराजगी जताई है। गांव में लगा उक्त बैनर चौक चौराहे पर चर्चा का विषय बना है। ग्राम प्रधान शिवपूजन राजभर, अजय कुमार, आरपी सिंह, नरसिंह, बाबूलाल, अनिल कुमार, अजय कुमार, विनोद कुमार, रामनयन, आदि ने बताया कि 15 वर्ष पहले गांव में सड़क बनवाया गया था उसके बाद से एक बार भी कोई देखने तक नहीं आया है। मजबूर होकर ग्रामीणों को यह कदम उठाना पड़ा है।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker