Ayodhya

रोजगार से प्रभावित जिलाधिकारी ने गौसपुर ककरहिया के उद्यमियों का बढ़ाया हौसला

  • रोजगार से प्रभावित जिलाधिकारी ने गौसपुर ककरहिया के उद्यमियों का बढ़ाया हौसला

जलालपुर, अंबेडकर नगर। एक छोटे से गांव में स्वरोजगार के माध्यम से उद्यमिता के सपनों को पंख देते हुए विकास खंड जलालपुर के ग्राम गौसपुर ककरहिया निवासी रीतादेवी के नेतृत्व में सरस्वती आजीविका समूह की महिलाओं द्वारा कपड़ों की सिलाई का कार्य सफलता पूर्वक प्रारम्भ करते हुए प्रतिदिन 5000 से अधिक के लोवर, टीशर्ट, बच्चों एवं महिलाओं के वस्त्र तैयार किये जा रहे है। ग्रामीण परिवेश की महिला द्वारा जीवन यापन हेतु स्वरोजगार क्षेत्र में किए गए इस अभिनव प्रयोग जहाँ क्षेत्र की तमाम महिलाओं को आर्थिक संबल मिला है वही इस उधमिता से प्रभावित होकर से जिलाधिकारी द्वारा पूरे प्रशासनिक अमले के साथ घर पहुँचकर उक्त महिला का हौसला बढ़ाया गया। स्थान एवं संसाधन कम होने की जानकारी होने पर जिलाधिकारी ने आर्थिक व सांख्यकी अधिकारी को उपजिलाधिकारी से समन्वय स्थापित करते हुए क्रिटिकल फन्ड की धनराशि से यहाँ पर एक सिलाई सेन्टर कम बारात घर का निर्माण कराने का निर्देश दिया। इस बरात घर की आय को समूह की महिलाओं द्वारा इसके रख-रखाव में खर्च किया जायेगा। जिलाधिकारी ने उपस्थित समस्त अधिकारियों से अपील की कि समूह से निर्मित 20 ट्रैक सूट का आर्डर दिया जाय एवं जिलाधिकारी द्वारा स्वयं इसका भुगतान यह कहते हुए दिया गया कि सारे अधिकारी अपने ट्रैक सूट की धनराशि उन्हें वापस कर देगें। जिलाधिकारी ने कहा कि मुख्यमन्त्री के उत्तर प्रदेश की वन ट्रिलियल डालर इकोनोमी बनाने एवं प्रधानमंत्री के देश को पाँच ट्रिलियन डालर इकोनोमी बनाने के सपने को साकार करने हेतु विकास खण्ड जलालपुर के ग्राम गौसपुर ककरहिया के स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा किया गया प्रयास सराहनीय है।जिलाधिकारी द्वारा गांव में सीसी रोड, नाली, सिलाई सेन्टर, बारातघर आदि का निर्माण कराने हेतु अधिकारियों को निर्देश दिये गये। इस दौरान उपजिलाधिकारी जलालपुर, उपायुक्त स्वतः रोजगार,जिला आर्थिक एवं सांख्यिकी अधिकारी, खंड विकास अधिकारी जलालपुर आदि उपस्थित रहे।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker